IPL 2021: ऑस्ट्रेलिया पहुंचकर बोले माइक हसी, कोरोना पॉजिटिव होने से पहले ही मुझे पता था..

IPL 2021: ऑस्ट्रेलिया पहुंचकर बोले माइक हसी, कोरोना पॉजिटिव होने से पहले ही मुझे पता था: आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स टीम…

IPL 2021: माइक हसी को रिपोर्ट आने से पहले ही पता चल गया था कि उन्हें कोरोना हो गया है, माइक हसी ने खुद बताया कैसे
IPL 2021: माइक हसी को रिपोर्ट आने से पहले ही पता चल गया था कि उन्हें कोरोना हो गया है, माइक हसी ने खुद बताया कैसे

IPL 2021: ऑस्ट्रेलिया पहुंचकर बोले माइक हसी, कोरोना पॉजिटिव होने से पहले ही मुझे पता था: आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स टीम के बैटिंग कोच माइक हसी सोमवार को दोहा के रास्ते ऑस्ट्रेलिया के सिडनी पहुंच गए, जहां वह होटल में अनिवार्य 14 दिनों के क्वारंटाइन में रहेंगे. इसके बाद वह पर्थ में जाकर अपने परिवार में लौट सकेंगे. पिछले कई दिन माइक हसी के लिए बिलकुल भी अच्छे नहीं रहे हैं, वह उन लोगों में शामिल थे जो आईपीएल 2021 के दौरान संक्रमित हुए थे. ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर माइक हसी आईपीएल में सीएसके टीम के बैटिंग कोच है, और आईपीएल 2021 स्थगित होने के बाद जब सब प्लेयर्स भारत से रवाना हो गए थे तब कोरोना पॉजिटिव होने के चलते माइक हसी को भारत में ही रुकना पड़ा था. कोरोना पॉजिटिव होने के बाद के अपने अनुभव को साझा करते हुए उन्होंने फॉक्स स्पोर्ट्स से बातचीत की, इसमें उन्होंने बताया कि कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने से पहले ही उनको अंदाजा हो गया था कि मैं कोरोना संक्रमित हो चुका हूं.

दिल्ली पहुंचकर कोच हुए संक्रमित

चेन्नई सुपर किंग्स ने अपने आईपीएल 2021 अभियान की शुरुआत मुंबई में मैचों के साथ की, वहां टीम के सभी प्लेयर्स सुरक्षित रहे. चेन्नई सुपर किंग्स अपने दूसरे हाल्फ के मैचों को खेलने के लिए मुंबई से दिल्ली पहुंची, दिल्ली में इस दौरान कोरोना वायरस की स्थिति खराब थी. इस पर बात करते हुए माइक हसी ने कहा, हमारी टीम में सबसे पहले लक्ष्मीपति बालाजी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई. टीम बस में गेंदबाज कोच बालाजी के सबसे नजदीक वाली सीट पर मैं बैठता था. माइक हसी ने कहा, मेरी पहली रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो हमे लगा था कि दूसरी रिपोर्ट नेगेटिव आएगी, लेकिन दुर्भाग्य से मेरी दूसरी रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई और संक्रमण की पुष्टि हुई.

माइक हसी ने कहा, सच कहूं तो रिपोर्ट से पहले ही मुझे कुछ लक्षण महसूस होने लगे थे, तो मुझे पहले ही लगने लगा था कि कोरोना संक्रमण मुझे लग चुका है. वहीं बालाजी बस में मेरे आगे वाली सीट पर बैठते थे, तो मुझे लगने लगा कि अगर उनको कोरोना है तो जरूर मुझे भी हो चुका है.

मुंबई में सुरक्षित था बायो बबल

माइक हसी और अन्य प्लेयर्स को कोरोना संक्रमण कब और कैसे हुआ, इसको लेकर पुख्ता कुछ नहीं कहा जा सकता लेकिन इस पर बात करते हुए माइक हसी ने कहा, मुंबई के बायो बबल में पूरी तरह सुरक्षित लगता था लेकिन वहां से दिल्ली आना थोड़ा असुरक्षित था. एयरपोर्ट में चेकिंग, फ्लाइट अटेंडेंट, पायलट, सिक्योरिटी आदि लोग बायो बबल से बाहर के थे. उन्होंने कहा, मुंबई में बायो बबल से निकलते ही रिस्क बढ़ गया था.

यह भी पढ़ें- साहा और कृष्णा के बाद अब अमित मिश्रा भी आए Covid-19 नेगेटिव

टूर्नामेंट पूरा नहीं होना दुखद – माइक हसी

माइक हसी ने बताया कि उन्हें खांसी, बुखार था लेकिन सांस को लेकर कोई समस्या नहीं थी. उन्होंने टीम मैनेजमेंट की तारीफ करते हुए कहा- इस दौरान उनका पूरा समर्थन मिला और उन्होंने हरसंभव मदद की. माइक हसी ने टूर्नामेंट पूरा नहीं होने पर दुख भी जताया. आपको बता दें कि सिडनी होटल में 14 दिन के क्वारंटाइन के बाद माइक हसी अपने घर पहुंचकर अपने परिवार संग जुड़ेंगे. इससे पहले वह भारत से दोहा के रास्ते सिडनी पहुंचे थे.

Share This: