सागर हत्याकांड: Sushil Kumar से वापस लिया जाएगा पद्म श्री अवार्ड ? जानिए कब होगा अंतिम निर्णय

सागर हत्याकांड: Sushil Kumar से वापस लिया जाएगा पद्म श्री अवार्ड ? जानिए कब होगा अंतिम निर्णय: ओलम्पिक पदक विजेता पहलवान सुशील…

Sushil Kumar Case Updates: सुशील कुमार के बाद सक्रीय गैंग के 4 बदमाश गिरफ्तार, वारदात के समय थे मौजूद
Sushil Kumar Case Updates: सुशील कुमार के बाद सक्रीय गैंग के 4 बदमाश गिरफ्तार, वारदात के समय थे मौजूद

सागर हत्याकांड: Sushil Kumar से वापस लिया जाएगा पद्म श्री अवार्ड ? जानिए कब होगा अंतिम निर्णय: ओलम्पिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार पुलिस की गिरफ्त में आ चुके हैं, दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने उन्हें रविवार को मुंडका इलाके से गिरफ्तार किया. जो सुशील कुमार पहलवानी में भारत का प्रतिनिधित्व करता था, लाखों युवाओं के लिए प्रेरणा था आज वही सुशिल कुमार पर ह्त्या का आरोप है. सुशील कुमार पर शिकंजा जकड़ता ही जा रहा है, और इस बीच इस पहलवान के लिए एक और बुरी खबर है. खबर के मुताबिक भारत सरकार पहलवान सुशील कुमार से पद्म श्री अवार्ड वापस ले सकती है. सुशील कुमार को 10 साल पहले वर्ष 2011 उनके शानदार करियर के लिए पद्म श्री अवार्ड से नवाजा गया था.

सही समय पर लिया जाएगा सुशील कुमार से अवार्ड वापसी फैसला

सुशील कुमार पहले ऐसे खिलाड़ी है, जिन्हे इस पद्म श्री अवार्ड से नवाजा गया है और उन पर इतने संगीन आरोप लगे हैं, हालांकि आरोप अभी साबित नहीं हुए है लेकिन मामला में कोर्ट में हैं. रिपोर्ट के मुताबिक सुशील कुमार से पद्म श्री अवार्ड वापस लिया जाएगा, लेकिन इसको लेकर कोई अंतिम फैसला भारत सरकार सही समय आने पर ही करेगी.

यह भी पढ़ें- कोरोना पॉजिटिव होने के बाद की कहानी बताते हुए रो पड़े Tim Seifert, देखिए उन्होंने क्या कहा

इससे पहले सागर हत्याकांड में मुख्य आरोपी सुशील कुमार फरार थे, वह घटना की वारदात के बाद से ही फरार हो गए थे जिसकी तालाश में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल टीम ने कई राज्यों में छापेमारी की, और उन्हें रविवार को सुबह मुंडका इलाके से गिरफ्तार किया गया. इसके बाद उन्हें 6 दिन की रिमांड पर भेज दिया गया है.

सबक सिखाना चाहता था पहलवान

आपको बता दें कि सुशील कुमार को सागर राणा हत्याकांड मामले में नामजद किया गया है. 2 बार के ओलंपिक पदक विजेता और उसके सहयोगियों द्वारा 4 मई को छत्रसाल स्टेडियम में अपने दो दोस्तों के साथ मारपीट की गई थी. युवा पहलवान की मौत के बाद से सुशील फरार था और गिरफ्तारी से बच रहा था.

सुशील और उसके साथियों पर सागर को मॉडल टाउन स्थित उसके घर से अगवा करने का आरोप है. पुलिस ने कहा था कि अन्य पहलवानों के सामने उसे गाली देने के लिए उसे सबक सिखाने के लिए ऐसा किया गया था. सुशील ने प्रिंस नाम के एक लड़के को घटना का वीडियो बनाने के लिए कहा और वह चाहता था कि यह उसके समुदाय में यह वीडियो वायरल हो ताकि कोई और दो बार के ओलंपिक पदक विजेता को फिर से अपमानित करने की हिम्मत न करे.

 

Share This: