India Tour of England:विराट कोहली और उनकी टीम के लिए राहत,यूके सरकार ने भारतीय क्रिकेटरों के लिए क्वरांटाइन मानदंडों में दी ढील

India Tour of England-विराट कोहली और उनकी टीम के लिए राहत,यूके सरकार ने भारतीय क्रिकेटरों के लिए क्वरांटाइन मानदंडों में दी ढील:विराट…

India Tour of England:विराट कोहली और उनकी टीम के लिए राहत,यूके सरकार ने भारतीय क्रिकेटरों के लिए क्वरांटाइन मानदंडों में दी ढील
India Tour of England:विराट कोहली और उनकी टीम के लिए राहत,यूके सरकार ने भारतीय क्रिकेटरों के लिए क्वरांटाइन मानदंडों में दी ढील

India Tour of England-विराट कोहली और उनकी टीम के लिए राहत,यूके सरकार ने भारतीय क्रिकेटरों के लिए क्वरांटाइन मानदंडों में दी ढील:विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम इंडिया तीन महीने के लंबे दौरे के लिए इंग्लैंड की यात्रा के लिए जाने वाली थी। लेकिन यात्रा प्रतिबंधों के कारण इस दौरे में काफी कठिनाई आ रही थी। लेकिन अब बीसीसीआई को यूके यात्रा प्रतिबंधों में अब कुछ ढील दी गई है। कोविड-19 के बढ़ते मामलों की वजह से सरकारी नियमों के अनुसार रेड लिस्ट में भारत,यूके और आयलैंड के नागरिकों को प्रवेश की अनुमति नहीं थी। इसलिए बीसीसीआई आईसीसी डब्ल्यूटीसी फाइनल और इंग्लैंड टूर को बचाए रखने के लिए बातचीत कर रहा था।

वहीं बीसीसीआई ने पहले ही टीम को 2 जून को यूके के लिए रवाना होने के लिए तैयार रखा था, उन्हें केवल देश की सरकार से आधिकारिक मुहर की जरूरत थी। अब यह समय आ गया है, विराट कोहली एंड कंपनी 3 जून को यूके पहुंचेगी और साउथेम्प्टन के होटलों में सख्त क्वरंटाइन से गुजरेगी। भारत 18 जून से आईसीसी डब्ल्यूटीसी फाइनल में न्यूजीलैंड से भिड़ेगा।

भारत के इंग्लैंड दौरे के लिए टीम 19 मई तक मुंबई में असेंबल करना शुरू कर देगी और 2 जून को यूके के लिए रवाना होने से पहले 24 मई से बायो-बबल में चली जाएगी। इसके बाद 24 मई को टीम बायो बबल से गुजरने के बाद टीम को सुरक्षित मार्ग से चार्टर प्लने के द्वारा रवाना होगी। जिसकी सुविधा बीसीसीआई ने हैदराबाद, दिल्ली और चेन्नई में की है।

बेंगलुरु में रहने वाले क्रिकेटरों को ड्राइव कर चेन्नई जाने और फ्लाइट लेने का निर्देश दिया गया है। कोलकाता में रहने वाले रिद्धिमान साहा और मोहम्मद शमी जैसे अन्य लोगों के लिए, उन्हें मुंबई की यात्रा करने के लिए एक व्यावसायिक उड़ान लेनी होगी। वही गुजरात और अन्य भारतीय शहरों के क्रिकेटरों सिर्फ तीन पिक-अप पॉइंट से दूर हैं।

चूंकि क्रिकेटरों के परिवार भी टीम के साथ यूके जाएंगे इसलिए उन्हें मुंबई में बायो-बबल में शामिल होने के लिए कहा गया है। हालाँकि शिथिल किए गए मानदंड केवल खिलाड़ियों और सहायक कर्मचारियों के लिए हैं न कि परिवारों के लिए। जैसा कि टीम सितंबर के मध्य तक इंग्लैंड में होगी बीसीसीआई वर्तमान में उनकी प्रविष्टियों पर भी बातचीत कर रहा है।

खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिए और बायो-बबल की अखंडता को बनाए रखने के लिए खिलाड़ियों, सहयोगी स्टाफ और परिवार के सदस्यों के डोर-स्टेप कोविड-19 परीक्षण कराए गए हैं। एक बार जब खिलाड़ी मुंबई पहुंच जाएंगे तो बायो-बबल में प्रवेश करने से पहले उनका दोबारा परीक्षण किया जाएगा।

यदि किसी खिलाड़ी टेस्ट पॉजिटिव आता है तो यह संभावना नहीं है कि वह इंग्लैंड की यात्रा कर पाएगा। महिला टीम भी अपने एकमात्र टेस्ट और तीन मैचों की एकदिवसीय और टी20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज के लिए 2 जून को उसी चार्टर प्लेन में सवार होगीं। यह सीरीज16 जून से शुरू होगी। भारत के अलावा पाकिस्तान को भी ब्रिटेन के अपने दौरे के लिए छूट दी गई है।

महिला टीम के साथ यात्रा करने वाली एक खिलाड़ी ने इनसाइडस्पोर्ट को बताया, “हमें 19 मई को इकट्ठा होने के लिए कहा गया है। सख्त क्वरंटाइन के बाद हम जून में इंग्लैंड के लिए उड़ान भरेंगे।”

Share This: