MS Dhoni Drone Business: चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी ने बनाया किसानों के लिए ड्रोन, देखिये कैसे करेंगे उनकी मदद-Watch Video

MS Dhoni Drone Business: चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ड्रोन कैमरे बनाने के बिजनेस…

MS Dhoni Drone Business: चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी ने बनाया किसानों के लिए ड्रोन, देखिये कैसे करेंगे उनकी मदद-Watch Video
MS Dhoni Drone Business: चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी ने बनाया किसानों के लिए ड्रोन, देखिये कैसे करेंगे उनकी मदद-Watch Video

MS Dhoni Drone Business: चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ड्रोन कैमरे बनाने के बिजनेस में हाथ आजमाने के लिए मैदान में उत्तर आए हैं। धोनी ने ड्रोन (Dhoni Drone) बनाने वाली कंपनी गरुड़ एयरोस्पेस (Garuda Aerospace Drone Company) में निवेश किया है। वह कंपनी द्वारा जारी की गई फिल्म में भी दिखाई दे रहे हैं। कंपनी द्वारा पहली डिजिटल ब्रांड फिल्म ‘खेतों के कप्तान’ भी धोनी की अपनी ही एंटरटेनमेंट कंपनी द्वारा बनाई गई है। फिल्म का उद्देश्य युवाओं और किसानों को अपने-अपने खेतों की सुरक्षा करने के लिए प्रोत्साहित करना है। क्रिकेट की खबरों के लिए Hindi.InsideSport.In को फॉलो करें।

फिल्म की परिकल्पना गरुड़ एयरोस्पेस की ब्रांड टीम द्वारा की गई है और धोनी एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के साथ मिकार संयुक्त रूप से इसे बनाया गया है। फिल्म ‘खेतों के कप्तान’ में किसानों के दैनिक जीवन में उनकी आवश्यकता को दर्शाया है और कैसे गरुड़ ड्रोन पानी और समय की बचत करते हुए कीटनाशकों के छिड़काव, निगरानी और मानचित्रण में किसानों की मदद कर सकते हैं।

युवाओं और किसानों को ड्रोन लोन और सब्सिडी भी दी जाएगी साथ ही उन्हें ड्रोन उड़ाने का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। ब्रांड फिल्म गरुड़ एयरोस्पेस के सोशल मीडिया हैंडल और महेंद्र सिंह धोनी के फेसबुक हैंडल पर लाइव है। धोनी ने चेन्नई स्थित इस कंपनी में निवेश किया है। कंपनी कम लागत वाले ड्रोन-आधारित समाधान प्रदान करती है और धोनी कंपनी के चेहरे और ब्रांड एंबेसडर भी हैं।

कंपनी ने मैपिंग, सैनिटाइजेशन, कृषि छिड़काव, सुरक्षा, वितरण और निगरानी सहित 38 विविध कामों के लिए ड्रोन डिजाइन किए हैं। गरुड़ ने एक महत्वपूर्ण ऑर्डर प्राप्त करके रक्षा क्षेत्र में भी प्रवेश किया है। वह रक्षा मंत्रालय के लिए 33 एंटी-ड्रोन सिस्टम भी तैयार करेंगे।

पिछले साल, एलोन मस्क ने ट्विटर पर कंपनी की परिचालन विशेषज्ञता को मान्यता दी थी। भारत ड्रोन महोत्सव के दौरान कंपनी के संस्थापकों को पीएम मोदी के साथ बातचीत करते भी देखा गया था।

एमएस धोनी इन्वेस्टमेंट्स: धोनी ने जिन बिजनेस उपक्रमों में निवेश किया है, उनकी सूची देखें?

पूर्व भारतीय कप्तान दुनिया भर के सबसे अमीर क्रिकेटरों में से एक हैं। यह ध्यान देने योग्य है कि इस संपत्ति का बड़ा हिस्सा क्रिकेट के अलावा अन्य व्यावसायिक परियोजनाओं से आता है।

जैविक खेती व्यवसाय: पिछले साल क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद, धोनी रांची में अपने फार्महाउस पर अपना समय बिता रहे हैं और सब्जियों और फलों की खेती में गहरी दिलचस्पी ले रहे हैं। धोनी ने कथित तौर पर दुबई में एक कंपनी को अपने खेतों के जैविक उत्पाद बेचे।

स्पोर्ट्सवियर और फुटवियर ब्रांड Seven: पूर्व क्रिकेटर स्पोर्टिंग वियर ब्रांड seven में बहुसंख्यक हितधारक है। कंपनी के ब्रांड एंबेसडर होने के अलावा, धोनी ब्रांड के फुटवियर कारोबार में भी भागीदार हैं।

फुटबॉल टीम: चेन्नईयिन एफसी: धोनी के पास अब इंडियन सुपर लीग, चेन्नईयिन एफसी में फुटबॉल टीम में पर्याप्त हिस्सेदारी है।

जिम बिजनेस: स्पोर्ट्सफिट वर्ल्ड- फिटनेस के लिए अपने प्यार के लिए जाने जाने वाले धोनी ने अपने जुनून को एक व्यवसाय में बदल दिया और वह कंपनी स्पोर्ट्सफिट वर्ल्ड प्राइवेट लिमिटेड के नाम से देश भर में 200 से अधिक जिम की एक सीरीज के मालिक हैं।

माही रेजीडेंसी – होटल: यह एमएस धोनी के अब तक के सबसे कम प्रसिद्ध व्यावसायिक निवेशों में से एक है क्योंकि बहुत कम लोग जानते हैं कि वह होटल माही रेजीडेंसी के नाम से एक होटल के भी मालिक हैं। विशेष रूप से, एमएस धोनी के स्वामित्व वाले होटल की कोई और फ्रेंचाइजी नहीं है। यह होटल रांची में हैं।

7InkBrews: धोनी एक फूड एंड बेवरेज स्टार्ट-अप, 7InkBrews में भी शेयरधारक हैं। कंपनी ने धोनी के प्रतिष्ठित हेलीकॉप्टर शॉट और उनकी जर्सी नंबर से प्रेरित होकर Copter7 के ब्रांड नाम के तहत उत्पादों, कलात्मक चॉकलेट और पेय पदार्थों की अपनी नई सीरीज लॉन्च की।

खाताबुक: एमएस धोनी ने 2021 में बेंगलुरु स्थित स्टार्टअप खाताबुक में निवेश किया और ऐप के ब्रांड एंबेसडर भी बने। स्टार्टअप ने कथित तौर पर अब तक 29 मिलियन अमरीकी डालर से अधिक जुटाए हैं और माही ने कंपनी में अपना पैसा भी लगाया है। खाताबुक पूरे भारत में छोटे व्यवसायों को अपने खातों और लेजर को डिजिटल रूप से प्रबंधित करने में मदद करता है। ऐप अपने उपयोगकर्ताओं को व्हाट्सएप और एसएमएस के माध्यम से पैसे इकट्ठा करने और देय भुगतान करने के लिए रिमाइंडर भी देता है।

क्रिकेट और अन्य खेल से सम्बंधित खबरों को पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज (Google News) पर फॉलो करें।

Share This: