WTC FINAL: इरफान पठान ने बताई वो गलती जिस कारण भारत नहीं बन पाया विश्व विजेता

WTC FINAL: इरफान पठान ने बताई वो गलती जिस कारण भारत नहीं बन पाया विश्व विजेता- भारत के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान…

WTC FINAL: इरफान पठान ने बताई वो गलती जिस कारण भारत नहीं बन पाया विश्व विजेता
WTC FINAL: इरफान पठान ने बताई वो गलती जिस कारण भारत नहीं बन पाया विश्व विजेता

WTC FINAL: इरफान पठान ने बताई वो गलती जिस कारण भारत नहीं बन पाया विश्व विजेता- भारत के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने कहा है कि विराट कोहली की टीम को न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) फाइनल के लिए अपने लाइन-अप में एक और बल्लेबाज को रखने की जरूरत थी। पिछले हफ्ते केन विलियमसन की अगुवाई वाली न्यूजीलैंड ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) के फाइनल में भारत को हराकर टेस्ट गदा हासिल किया था। उन्होंने साउथेम्प्टन में भारत को आठ विकेट से हराया।

ये भी पढ़ें- ENG vs SL 2nd ODI LIVE: इंग्लैंड और श्रीलंका के बीच दूसरे वनडे की लाइव स्ट्रीमिंग, भारत में कब, कहां और कैसे देखें

“दूसरी पारी में गेंद उतनी स्विंग नहीं कर रही थी और भारतीय बल्लेबाज अधिक जिम्मेदारी से बल्लेबाजी कर सकते थे। मैं एक बल्लेबाज के रूप में ऋषभ पंत की क्षमताओं से अवगत हूं और मुझे पता है वह कैसे गेंदों को बहुत अच्छी तरह से हिट कर सकता है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप एक तेज गेंदबाज को बाहर मारते रहें। आपको जिम्मेदारी से बल्लेबाजी करनी थी। टीम को उसकी आवश्यकता थी।”

उन्होंने आगे कहा, ”भारतीय बल्लेबाज बाउंसरों पर बहुत अधिक पुल शॉट का प्रयोग कर रहे थे। अपने शरीर का उपयोग करने के बजाय यह प्रतिबद्धता की कमी को दर्शाता है। ये सवाल कठिन हैं, लेकिन मुझे उम्मीद है कि भारतीय बल्लेबाजों में भविष्य में अपना जवाब देने की ताकत होगी।”

उन्होंने आगे कहा,’कीवी बल्लेबाज दो विकेट के नुकसान पर 140 रन बनाने में सफल रहे, लेकिन हमारी भारतीय टीम ने समान स्कोर बनाते हुए आठ विकेट गंवा दिए।

WTC फाइनल के में भारतीय गेंदबाजी आक्रमण के अभ्यास की कमी के बारे में बात करते हुए, इरफान पठान ने कहा- “जब तक हमने (टीम इंडिया) दूसरे सत्र के लिए क्षेत्ररक्षण शुरू किया, हमारे गेंदबाज पहले ही थक चुके थे। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि भारत को पर्याप्त मैच अभ्यास नहीं मिला। जब एक टीम को कम मैच अभ्यास मिलता है तो उसके पास किसी विशेष मैच के लिए आवश्यक मैच फिटनेस नहीं होती है। मुझे लगता है कि यह सुधार होगा। भारतीय गेंदबाजों को अधिक बाउंसरों का विकल्प चुनना चाहिए था। जिस तरह से नील वैगनर ने किया था।”

हमें लेंथ में सुधार की आवश्यकता है, क्योंकि हमने केन विलियमसन और रॉस टेलर को कई कट शॉट और बैक-फुट पंच करते देखा है।

Share This: