Tokyo Olympics: ओलंपिक से हटीं कैरोलिना मारिन के लिए पीवी सिंधु का बेहद भावुक संदेश, ‘ओलंपिक में तुम्हारी कमी खलेगी’

Tokyo Olympics: ओलंपिक से हटीं कैरोलिना मारिन के लिए पीवी सिंधु का बेहद भावुक संदेश, ‘ओलंपिक में तुम्हारी कमी खलेगी’- भारत की…

Tokyo Olympics: ओलंपिक से हटीं कैरोलिना मारिन के लिए पीवी सिंधु का बेहद भावुक संदेश, 'ओलंपिक में तुम्हारी कमी खलेगी'
Tokyo Olympics: ओलंपिक से हटीं कैरोलिना मारिन के लिए पीवी सिंधु का बेहद भावुक संदेश, 'ओलंपिक में तुम्हारी कमी खलेगी'

Tokyo Olympics: ओलंपिक से हटीं कैरोलिना मारिन के लिए पीवी सिंधु का बेहद भावुक संदेश, ‘ओलंपिक में तुम्हारी कमी खलेगी’- भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पी वी सिंधू ने बुधवार को स्पेन की कैरोलिना मारिन के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हुए कहा कि ओलंपिक खेलों में गत चैम्पियन की कमी खलेगी. मारिन को घुटने की चोट के कारण ओलंपिक से नाम वापिस लेना पड़ा है.

टोक्यो ओलंपिक में पदक की सबसे प्रबल दावेदार मारिन को अभ्यास के दौरान घुटने में चोट लगी और उन्होंने मंगलवार को खेलों से नाम वापिस ले लिया.

ये भी पढ़ें- Tokyo Olympics: घुटने की चोट के कारण चैंपियन खिलाड़ी कैरोलिना मारिन ओलंपिक से हटीं

सिंधू ने कहा ,‘‘ मुझे पिछले ओलंपिक याद है जब हम फाइनल खेले थे. तुम्हारे खिलाफ खेलना अच्छा लगा और इस बार कोर्ट पर तुम्हारी कमी खलेगी.’’

कैरोलिना मारिन बायें घुटने में चोट के कारण मंगलवार को टोक्यो ओलंपिक से हट गईं. इस स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी को चोट से उबरने के लिए सर्जरी करानी पड़ेगी. स्पेन की इस 27 वर्षीय खिलाड़ी ने शनिवार को ट्रेनिंग के दौरान घुटने में दर्द महसूस किया और परीक्षण में चोट का पता चला.

मारिन ने ट्वीट किया, ‘‘सप्ताहांत परीक्षण और चिकित्सकीय परामर्श के बाद मैं पुष्टि कर सकती हूं कि मेरे बायें घुटने में चोट है। इस हफ्ते मेरी सर्जरी होगी और फिर मैं रिहैबिलिटेशन प्रक्रिया से गुजरूंगी.’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह एक और झटका है जिसका सामना मुझे करना पड़ रहा है. पिछले दो महीने में उन कारणों से तैयारी काफी मुश्किल रही तो टीम के नियंत्रण में नहीं थे लेकिन हम रोमांचित थे और पता था कि मैं ओलंपिक के दौरान सर्वश्रेष्ठ स्थिति में रहूंगा. ऐसा अब संभव नहीं होगा.’’ ओलंपिक 23 जुलाई से शुरू होंगे.

तीन बार की विश्व चैंपियन मारिन खिताब की प्रबल दावेदार थी क्योंकि वह शानदार फॉर्म में चल रही थी और इस साल पांच फाइनल में खेलते हुए चार खिताब जीतने में सफल रही.

Share This: