Cricket
आशीष नेहरा ने ठुकराया हेड कोच का प्रस्ताव, BCCI फिर द्रविड़ के पास पहुंची

आशीष नेहरा ने ठुकराया हेड कोच का प्रस्ताव, BCCI फिर द्रविड़ के पास पहुंची

आशीष नेहरा ने ठुकराया हेड कोच का प्रस्ताव, BCCI फिर पहुंची द्रविड़ के पास
IPL में गुजरात टाइटंस के कप्तान आशीष नेहरा ने भारतीय टीम का अगला हेड कोच बनने से इंकार कर दिया था। BCCI ने राहुल द्रविड़ का कॉन्ट्रैक्ट बढ़ाया।

भारतीय क्रिकेट टीम के हेड कोच के रूप में BCCI ने राहुल द्रविड़ और सपोर्ट स्टाफ का कार्यकाल बढ़ा दिया है। बुधवार को इसकी आधिकारिक घोषणा हुई। ODI वर्ल्ड कप के बाद राहुल द्रविड़ का करार खत्म हो गया था। हालांकि द्रविड़ से पहले बोर्ड आशीष नेहरा को कोच की भूमिका में देख रहा था लेकिन उन्होंने इसका प्रस्ताव ठुकरा दिया था।

BCCI वापस राहुल द्रविड़ के पास पहुंची। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार आशीष नेहरा नेहरा को भारतीय क्रिकेट टीम का हेड कोच बनने का प्रस्ताव दिया गया था लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया था। जिसके बाद बोर्ड चाहता था कि द्रविड़ अगले साल जून में होने वाले T20 वर्ल्ड कप तक हेड कोच बने रहे।

T20 वर्ल्ड कप अगले साल 4 जून में अमेरिका और कैरिबियन देश में खेला जाएगा। आशीष नेहरा को इसका प्रस्ताव दिया गया था, जिन्होंने बतौर कोच अपने पहले ही सीजन में गुजरात टाइटंस को चैंपियन बनाया। अगले सीजन टीम उनकी कोचिंग में फाइनल तक पहुंची। गुजरात के प्लेयर्स, पूर्व क्रिकेटर्स, फैंस आदि सभी ने आशीष नेहरा की बतौर कोच खूब तारीफ़ की। हालांकि नेहरा अभी टीम इंडिया के हेड कोच का पद नहीं संभालना चाहते।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार कप्तान रोहित शर्मा और चयन समिति के अध्यक्ष अजीत अगरकर का मानना था कि राहुल द्रविड़ को अगले T20 वर्ल्ड कप तक कोच पद पर बने रहना चाहिए।

राहुल द्रविड़ और BCCI के बीच करार सफलतापूर्वक हो गया और बुधवार को BCCI ने आधिकारिक रूप से घोषणा कर दी कि हेड कोच राहुल द्रविड़ समेत सपोर्ट स्टाफ का कॉन्ट्रैक्ट बढ़ा दिया गया है।

यह भी देखेंSA के खिलाफ T20 और ODI नहीं खेलना चाहते Virat Kohli, बोर्ड से मांगी छुट्टी

द्रविड़ ने कॉन्ट्रैक्ट बढ़ने के बाद BCCI को किया धन्यवाद

द्रविड़ ने बतौर कोच अपना कॉन्ट्रैक्ट बढ़ने के बाद कहा, मैं BCCI को मुझ पर भरोसा रखने, मेरे नजरिए का समर्थन करने और इस कार्यकाल के दौरान समर्थन प्रदान करने के लिए धन्यवाद करता हूं। हेड कोच के तौर पर कार्य करते हुए घर से काफी दूर समय बिताना पड़ता है, और मैं अपने परिवार के त्याग और समर्थन की सराहना करता हूं। पर्दे के पीछे उनकी भूमिका महत्वपूर्ण है और इसका कोई मूल्य नहीं है। जैसा कि हम विश्व कप के बाद नई चुनौतियों को स्वीकार करते हैं, हम टीम को बेहतर बनाने के लिए कार्य करेंगे और इसके लिए प्रतिबद्ध है।”

Editors pick