Wrestling
भारतीय पहलवान Ravi Malik सिर्फ 42 सेकंड में हार गए मैच, कांस्य पदक के प्ले ऑफ का था मुकाबला

भारतीय पहलवान Ravi Malik सिर्फ 42 सेकंड में हार गए मैच, कांस्य पदक के प्ले ऑफ का था मुकाबला

भारतीय पहलवान Ravi Malik सिर्फ 42 सेकंड में हार गए मैच, कांस्य पदक के प्ले ऑफ का था मुकाबला
भारतीय पहलवान Ravi Malik सिर्फ 42 सेकंड में हार गए मैच, कांस्य पदक के प्ले ऑफ का था मुकाबला: रवि मलिक को 82 किग्रा भार वर्ग के कांस्य पदक के प्ले ऑफ मुकाबले में रविवार को यहां तकनीकी दक्षता के आधार पर सिर्फ 42 सेकेंड में हार झेलनी पड़ी। Ravi Malik ग्रीको रोमन दल जूनियर विश्व […]

भारतीय पहलवान Ravi Malik सिर्फ 42 सेकंड में हार गए मैच, कांस्य पदक के प्ले ऑफ का था मुकाबला: रवि मलिक को 82 किग्रा भार वर्ग के कांस्य पदक के प्ले ऑफ मुकाबले में रविवार को यहां तकनीकी दक्षता के आधार पर सिर्फ 42 सेकेंड में हार झेलनी पड़ी। Ravi Malik ग्रीको रोमन दल जूनियर विश्व चैंपियनशिप से बिना पदक के वापस लौटेंगे।

जॉर्जिया के सबा मामालाजे के खिलाफ उतरे Ravi Malik ने शुरुआती मूव बनाया लेकिन विरोधी पहलवान ने पलटवार करके अंक जुटाए। सबा ने इसके बाद चार अंक जुटाकर मुकाबला लगभग अपनी झोली में डाल लिया।

पदक की दौड़ में जगह बनाने वाले एकमात्र भारतीय थे Ravi Malik 

Ravi Malik एकमात्र भारतीय ग्रीको रोमन पहलवान थे जिन्होंने पदक दौर में जगह बनाई थी। मलिक ने अपने अभियान की शुरुआत एस्टोनिया के रोबिन उसपेंस्की के खिलाफ 6-0 की जीत के साथ की और फिर किर्गिस्तान के जेनिश हुमनाबेकोव को 18-9 से शिकस्त दी। हुमनाबेकोव को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में तीन बार चेतावनी दी गई।

भारतीय पहलवान को हालांकि सेमीफाइनल में आर्मेनिया के करेन खचातरयान के खिलाफ तकनीकी दक्षता के आधार पर शिकस्त झेलनी पड़ी।

यह भी पढ़ें – Shaili Singh Silver Medal: लंबी कूद में शैली सिंह ने सिल्वर मेडल जीतकर रचा इतिहास, 1 सेंटीमीटर से चूंक गई स्वर्ण पदक

मलिक के अलावा भारतीय पहलवानों में सिर्फ नरिंदर चीमा (97 किग्रा) ही दो मुकाबले जीत पाए और उन्हें रेपेचेज के जरिए पदक जीतने का मौका मिला था। वह हालांकि रविवार को सुबह के सत्र में नॉर्वे के मार्कस वोरेन के खिलाफ रेपेचेज दौर में तकनीकी दक्षता से हार के साथ कांस्य पदक के मुकाबले में जगह बनाने में नाकाम रहे।

विकास (72 किग्रा) और दीपक (77 किग्रा) ने पहले दौर के मुकाबले जीते लेकिन दूसरे दौर में हार गए जबकि अनूप (55 किग्रा), विकास (60 किग्रा), अनिल (63 किग्रा), दीपक (67 किग्रा), सोनू (87 किग्रा) और परवेश (130 किग्रा) पहले दौर के मुकाबले हारकर प्रतियोगिता से बाहर हो गए। भारत के पुरुष फ्रीस्टाइल पहलवानों ने छह पदक जबकि महिला पहलवानों ने पांच पदक जीते। भारत टीम चैंपियनशिप में तीसरे स्थान पर रहा। पीटीआई भाषा

Editors pick