Asian Boxing Championship: छह बार की विश्व चैम्पियन मैरी कॉम एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची

Asian Boxing Championship: छह बार की विश्व चैम्पियन एमसी मैरी कॉम एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची- छह बार की विश्व…

Asian Boxing Championship: छह बार की विश्व चैम्पियन मैरी कॉम एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची
Asian Boxing Championship: छह बार की विश्व चैम्पियन मैरी कॉम एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची

Asian Boxing Championship: छह बार की विश्व चैम्पियन एमसी मैरी कॉम एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची- छह बार की विश्व चैम्पियन एमसी मैरी कॉम (51 किग्रा) ने गुरुवार को मंगोलिया की लुतसेइखान अलतांतसेतसेग को हराकर एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप के फाइनल में प्रवेश किया. मैरी कॉम ने खंडित फैसले में मंगोलियाई मुक्केबाज को 4-1 से मात दी. हालांकि मोनिका (48 किग्रा) को कजाकिस्तान की दूसरी वरीयता प्राप्त अलुआ बाल्कीबेकोवा से 0-5 से हार के बाद कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा.

शीर्ष वरीय 38 साल की मेरीकोम ने अपने अनुभव का पूरा फायदा उठाते हुए अलतांतसेतसेग के खिलाफ दबदबा बनाया. मुकाबले के दौरान मैरीकॉम के दायें हाथ से लगाए मुक्के काफी प्रभावी रहे. मैरीकॉम की नजरें इस महाद्वीपीय प्रतियोगिता में छठे स्वर्ण पदक पर टिकी हैं. पांच भारतीय पुरुष मुक्केबाज अमित पंघाल (52 किग्रा), वरिंदर सिंह (60 किग्रा), शिव थापा (64 किग्रा), विकास कृष्ण (69 किग्रा) और संजीत (91 किग्रा) शुक्रवार को सेमीफाइनल मुकाबले में उतरेंगे.

ये भी पढ़ें- Asian Boxing Championship: एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में भारत के 15 पदक पक्के, अमित पंघाल, वरिंदर सिंह सेमीफाइनल में पहुंचे

थापा को पांचवां पदक सुरक्षित करने के बाद लगा कि जैसे उन्होंने कोरोना वायरस पर विजय प्राप्त कर ली है. इस 27 वर्षीय मुक्केबाज ने दुबई में चल रहे टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचकर अपने लिए पदक पक्का किया. इससे वह टूर्नामेंट में भारत के सबसे सफल मुक्केबाज बन गए हैं.

 

Share This: