Liton Das Abused: बांग्लादेशी हिन्दू क्रिकेटर लिटन दास पर भड़के कट्टरपंथी, दुर्गा पूजा की बधाई देने पर कहा धर्म परिवर्तन करो-Check Out

Liton Das Abused: नवरात्रि का पर्व (Festival of Navratri) शुरू हो चुका है। दुनियाभर में हिंदू धर्म (Hindu Religion) के लोगों में…

बांग्लादेशी हिन्दु क्रिकेटर लिटोन दास पर भड़के कट्टरपंथी, दुर्गा पूजा की बधाई देने पर कहा धर्म परिवर्तन को- Check Out...
बांग्लादेशी हिन्दु क्रिकेटर लिटोन दास पर भड़के कट्टरपंथी, दुर्गा पूजा की बधाई देने पर कहा धर्म परिवर्तन को- Check Out...

Liton Das Abused: नवरात्रि का पर्व (Festival of Navratri) शुरू हो चुका है। दुनियाभर में हिंदू धर्म (Hindu Religion) के लोगों में ये 9 दिनों का धार्मिक त्योहार और दशहरा काफी मायने रखता है। इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आई है। बांग्लादेश (Bangladesh) के हिंदू क्रिकेटर लिटन दास (Liton Das) ने अपने फेसबुक पर नवरात्री के शुभ अवसर पर दुर्गा पूजा (Durga Puja) की शुभकामनाएं दीं है, जिसके बाद यहां के कट्टरपंथियों को लिटन दास का पोस्ट पसंद नहीं आया है। खेल जगत से जुड़ी हर खबर के लिए Hindi.InsideSport.In के साथ जुड़े रहिए।

ऐसे में उनकी पोस्ट पर वहां के ढेरों लोगों ने कॉमेंट करते हुए धर्म परिवर्तन (Religion change) करने को कहा है। मालूम हो कि यह घटना ऐसा नहीं है कि यह पहली बार हुआ है। उन्होंने इससे पहले कृष्ण जन्माष्टमी पर भी बधाई दी थी, तब भी उन्हें ट्रोल किया गया था और धमकी दी गई थी। वहीं उनके पोस्ट पर उल-जुलूल लिखे गए थे।

दरअसल हुआ ये कि नवरात्र के पहले महालया के मौके पर क्रिकेटर लिटोन दास ने इंस्टाग्राम पोस्ट कर नवरात्र की बधाई दी। उसके बाद लिटन बांग्लादेश के कट्टरपंथियों के निशाने पर आ गए। क्रिकेटर की हिंदू धार्मिक मान्यताओं पर उलूल- जलूल कमेंट करने लगे और उन्हें इस्लाम में कन्वर्ट होने के लिए कहा। वहीं कट्टरपंथियों ने पोस्ट पर जमकर अनाप-शनाप बातें लिखी हैं। बांग्लादेश में कट्टरपंथी ने क्रिकेटर लिटन दास की हिंदू धार्मिक मान्यताओं को बदनाम किया है।

लिटन दास की पोस्ट इस्लामिक कट्टरपंथियों को चुभी

आपको बता दें कि अपने फेसबुक पोस्ट में बांग्लादेशी क्रिकेट लिटोन दास ने देवी दुर्गा की एक मूर्ति की तस्वीर को शेयर किया था और कैप्शन में लिखा था कि, “सुभो महालय! मां दुर्गा आ रही हैं.” इसके तुरंत बाद, कट्टरपंथी उनकी टाइमलाइन पर उतर आए और लिटन दास को हिंदू धर्म के अनुयायी होने के लिए गालियां देनी शुरू कर दी।

गौरतलब  है कि, हिंदू मान्यताओं के अनुसार, महालय कैलाश पर्वत से देवी दुर्गा के पृथ्वी पर आगमन का प्रतीक है। उनके पोस्ट पर कट्टरपंथियों ने मूर्ति पूजा की निंदा की। वहीं इसके साथ ही कट्टपंथियों ने लिटन दास को ‘एक सच्चे विश्वास’ यानी ​​इस्लाम में परिवर्तित होने की भी धमकी दे डाली है।

बता दें कि बांग्लादेश में ये पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी कंट्टरपंथियों ने हिंदू समुदाय को निशाना बनाया और मूर्तियां तोड़ी। मंदिरों को निशाना बनाया गया लेकिन बांग्लादेश की शेख हसीना सरकार ना इसे रोक पा रही है और ना ही कठोर कदम उठा पा रही है। उल्लेखनीय है कि लिटन दास बांग्लादेश की इंटरनेशनल क्रिकेट टीम में खेलने वाले नियमित प्लेयर्स में शामिल हैं।

क्रिकेट और अन्य खेल से सम्बंधित खबरों को पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज (Google News) पर फॉलो करें। 

Share This: