IND vs SA ODIs: 3 चीजें जो भारत को सही करने की जरूरत है ताकि वो साउथ अफ्रीका को उनके ही घर में फिर से हरा सकें

IND vs SA ODIs: टीम इंडिया (Team India) आगामी तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला (ODI Series) में दक्षिण अफ्रीका (South Africa) का…

IND vs SA ODIs: 3 चीजें जो भारत को सही करने की जरूरत है ताकी वों साउथ अफ्रीका को उनके ही घर में फिर से हरा सकें
IND vs SA ODIs: 3 चीजें जो भारत को सही करने की जरूरत है ताकी वों साउथ अफ्रीका को उनके ही घर में फिर से हरा सकें

IND vs SA ODIs: टीम इंडिया (Team India) आगामी तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला (ODI Series) में दक्षिण अफ्रीका (South Africa) का सामना करने के लिए जोर शोर से तैयारी में जुट गयी है। कई नए खिलाड़ियों के टीम में शामिल होने से टीम इंडिया (Team India) टेस्ट विफलता (IND vs SA) को भुलाने की कोशिश करेगी। देखने वाली बात ये होगी की क्या वह प्रोटियाज (South Africa) के खिलाफ भारत की पिछली एकदिवसीय सफलता को दोहरा सकेंगे, जैसे टीम ने विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी में 2018 में साउथ अफ्रीका (IND vs SA)के दौरा में किया था। भारत ने साउथ अफ्रीका को 5-1 से हराया और अब वे उसी उपलब्धि को दोहराना चाहेंगे। खेल की ताजा खबरों के लिए जुड़े रहिए- hindi.insidesport.in

भारत ने आखिरी बार जुलाई में एकदिवसीय श्रृंखला (ODI Series) श्रीलंका के खिलाफ उन्हीं के देश में खेली थी। भारत ने हेड कोच राहुल द्रविड़ (Head Coach Rahul Dravid) के नेत्रत्त्व में यह सीरीज 2-1 से जीता था। सीनियर टीम ने तो आखिरी 50 ओवर का क्रिकेट मैच (ODI Series), मार्च 2021 में खेला था। हालाँकि साउथ अफ्रीका को दुबारा उनकी ही देश में हराने के लिए भारत को तीन बातों का ध्यान रखना बहुत ज़रूरी है।

IND vs SA ODIs: मध्यक्रम

मध्यक्रम में सूर्यकुमार यादव, श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत की बड़ी जिम्मेदारी होगी। श्रेयस और ऋषभ व्हाइट-बॉल क्रिकेट में अपनी हालिया टेस्ट सफलता को दोहराने की कोशिश करेंगे, जबकि सूर्यकुमार यादव के पास हाल ही में समाप्त हुई विजय हजारे ट्रॉफी में खराब प्रदर्शन के बाद फॉर्म में वापसी करेने का अच्छा मौका है।

यह भी पढ़ें: ICC WTC Point Table: एशेज में 4-0 से जीत के बाद ऑस्ट्रेलिया दूसरे स्थान पर, इंग्लैंड पहुंची 9वे पायदान पर

IND vs SA ODIs: विराट कोहली की फॉर्म

जब भारत ने 2018 में दक्षिण अफ्रीका का दौरा किया तो विराट कोहली (Virat Kohli) सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे। उन्होंने 186 की औसत से 558 रन बनाए थे जिसमें तीन शतक और एक अर्धशतक शामिल है। दुर्भाग्य से, वह पिछले कुछ वर्षों में पिछले 12 मैचों में सिर्फ 560 रन ही बना पाएं हैं। साउथ अफ्रीका में इतिहास दौहराने के लिए विराट कोहली की फॉर्म में लौटना बहुत ज़रूरी है।

IND vs SA ODIs: क्या युजवेंद्र चहल फिर से बुन सकेंगे स्पिन का जादू?

युजवेंद्र चहल दक्षिण अफ्रीका में एक बार फिर अपना जादू दोहराने की कोशिश करेंगे। उन्होंने 6 एकदिवसीय मैचों में 16.37 की औसत से 5.02 की असाधारण इकॉनमी रेट के साथ 16 विकेट लिए थे। आर अश्विन को उनकी बराबरी करने की जरूरत है क्योंकि कुलदीप यादव ने 4.62 की इकॉनमी से 17 विकेट लिए थे।

क्रिकेट और अन्य खेल से सम्बंधित खबरों को पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज (Google News) पर फॉलो करें

 

Share This: