PKL 2022: बेंगलुरु बुल्स के कप्तान विकास कंडोला ने प्राइस टैग के दबाव को नकारा, कहा, ‘मुझ पर ऐसा कोई दबाव नहीं है’: Watch Vikas Kandola Inetrview

PKL 2022: विकास कंडोला (Vikas Kandola) प्रो कबड्डी लीग (PKL Raiders) के सबसे बेहतर रेडर्स में से एक हैं। 23 वर्षीय इस…

PKL 2022: विकास कंडोला (Vikas Kandola) प्रो कबड्डी लीग (PKL Raiders) के सबसे बेहतर रेडर्स में से एक हैं। 23 वर्षीय इस सीज़न में अच्छी फॉर्म में दिखाई नहीं दिए हैं, उन्होंने बेंगलुरु बुल्स (Benagluru Bulls) के साथ अपने अभियान में 108 पॉइंट बनाए हैं। इनसाइडस्पोर्ट के साथ एक विशेष इंटरव्यू (Vikas Kandola Exclusive Interview) में बेंगलुरु बुल्स के कप्तान ने अपने प्रदर्शन से ज्यादा टीम की जीत को महत्वपूर्ण बताया। Pro Kabaddi League 2022 से जुड़ी हर खबर के लिए Hindi.InsideSport.In के साथ जुड़े रहिए।

प्रो कबड्डी लीग अपने आखिरी चरण की तरफ बढ़ रही है। इस बीच सभी टीमें प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए जोर आजमाइश में लगी हुई हैं। बेंगलुरु बुल्स अभी 66 अंको के कटऑफ मार्क को पार नहीं कर पाई है। ऐसे में टीम के कप्तान विकास कंडोला ने इनसाइडस्पोर्ट के साथ एक स्पेशल इंटरव्यू में टीम और अपने प्रदर्शन को लेकर कुछ अहम बातें कही।

हरियाणा के जींद जिले से आने वाले विकास ने कबड्डी इसलिए चुना क्योंकि पूरा गांव कबड्डी खेलता था और इसमें नौकरी लगने की संभावना ज्यादा होती है। लेकिन विकास ने कभी ये नहीं सोचा था कि कबड्डी को प्रो कबड्डी लीग जैसा बड़ा मंच मिलेगा और वहां उन्हें खेलने का मौका मिलेगा।

Full Interview यहां देखें: 

इस सीजन से पहले विकास को बेंगलुरु बुल्स ने नीलामी में 1 करोड़ 70 लाख में खरीदा था। ऐसे में इस सीजन अपने प्रदर्शन पर विकास कंडोला ने कहा, “मेरे लिए मेरा प्रदर्शन कोई मायने नहीं रखता, मेरे लिए टीम का प्रदर्शन सबसे ज्यादा जरूरी है और टीम अच्छा कर भी रही है और मेरे ऊपर प्राइस का कोई दबाव नहीं है, मुझे कोच ने पहले नीलामी वाले दिन ही ये बात बोल दी थी कि मुझे इस चीज का दबाव नहीं लेना है। जब-जब मेरी जरूरत टीम को होगी मैं प्रदर्शन करूंगा अभी हम भरत को रेडिंग में चला रहे यही और वह अच्छा भी कर रहा है।”

जयपुर के खिलाफ बड़े अंतर से हारने पर विकास ने कहा, “हमने 16 पॉइंट की बढ़त को भी पाटा है और उन चीजों से हमें प्रेरणा भी मिलती है। हमारे कोच को हमपर विश्वास है और वह बोलते भी हैं कि तुम कर सकते हो और तुमने कर के दिखाया भी है।”

पवन सहरावत कि जगह विकास को बेंगलुरु बुल्स ने अपनी टीम में शामिल किया था। ऐसे में उनकी तुलना पवन के साथ तुलना भी की जाने लगी है, अपनी तुलना पर उन्होंने कहा, “ऐसा कुछ नहीं है मेरे ऊपर तुलना को लेकर कोई दबाव नहीं है और कोच हमें काफी मोटिवेट करते हैं, चाहे हम कितने ही बड़े मार्जिन से हारें।”

क्रिकेट और अन्य खेल से सम्बंधित खबरों को पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज (Google News) पर फॉलो करें।

Share This: