Cricket
कश्मीर में बल्ले बनाने की फैक्ट्री में पहुंचे सचिन तेंदुलकर-WATCH

कश्मीर में बल्ले बनाने की फैक्ट्री में पहुंचे सचिन तेंदुलकर-WATCH

महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर अपने कश्मीर दौरे के दौरान परिवार संग क्रिकेट बैट बनाने की एक फैक्ट्री में पहुंच गए।

महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर अपने परिवार संग 17 फरवरी के कश्मीर के पुलवामा में जिले में क्रिकेट बैट बनाने की फैक्ट्री का दौरा करने पहुंचे। व्यक्तिगत दौरे के दौरान सचिन ने फिर से क्रिकेट के प्रति अपने लगाव को उजागर कर दिया है। सचिन इस दौरान अपनी बेटी सारा तेंदुलकर और पत्नी अंजली तेंदुलकर के साथ थे। यहां, उन्होंने पारंपरिक बल्ले बनाने की प्रक्रिया को जानने में रुचि दिखाई। सचिन के इस दौरे से यहां के क्षेत्रीय विलो बैट उद्योग को महत्वपूर्ण बढ़ावा भी मिला।

उन्होंने पुलवामा की फैक्ट्री में विलो की लकड़ियों को ध्यान से देखा और साथ ही बैट नॉकिंग कर बल्लों की गुणवत्ता भी जांची। सचिन तेंदुलकर इस दौरान स्थनीय बैट निर्माताओं से बातचीत करते हुए भी नजर आए।

सचिन ने अपनी कश्मीर दौरे पर यहां के स्थानीय लोगों के साथ गर्मजोशी संग मुलाकात भी की। स्थानीय लोगों ने महान क्रिकेटर के साथ सेल्फी भी खिंचाई। तेंदुलकर ने यहां की चाय की चुस्की भी ली।

स्थानीय बैट निर्माता नजीर खान ने कहा, “कश्मीर विलो के साथ पोज़ देने वाले सचिन ने हमारे ब्रांड मूल्य में इजाफा किया है।” कारीगरों के साथ बातचीत करने और बल्ले थामे उनकी उनकी तस्वीरें इस क्षेत्र के लिए एक ऐतिहासिक क्षण बन गई हैं।

कितनी कमाई करता है 19वीं सदी से चल रहा उद्योग?

19वीं सदी से चली आ रही जड़ों के साथ, कश्मीर का बल्ला उद्योग स्थानीय अर्थव्यवस्था का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। भारत के प्रमुख शहरों में क्रिकेट बैट की आपूर्ति से यहां से सालाना करीब 1300 करोड़ रूपयों व्यापार किया जाता है। एक अनुमान के अनुसार हर साल यहां 1.5 मिलियन क्रिकेट बैट तैयार किए जाते हैं।

Editors pick