Cricket
“एक युवा टीम गलतियां…” मैच के बाद कप्तान हार्दिक ने टीम को लेकर ये कहा, देखें

“एक युवा टीम गलतियां…” मैच के बाद कप्तान हार्दिक ने टीम को लेकर ये कहा, देखें

वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज में हार के बाद कप्तान हार्दिक पंड्या ने कहा, ‘एक सीरीज मायने नहीं रखती।’
ब्रायन लारा स्टेडियम में खेले गए पहले टी-20 मैच (IND vs WI T20 Series) में भारतीय टीम (Team India) को हार का सामना करना पड़ा। हालांकि, भारतीय टीम ने पहले ही टेस्ट और वनडे सीरीज अपने नाम कर ली है, लेकिन वेस्ट इंडीज ने टी-20 (IND vs WI) से अपनी वापसी की। इस हार के […]

ब्रायन लारा स्टेडियम में खेले गए पहले टी-20 मैच (IND vs WI T20 Series) में भारतीय टीम (Team India) को हार का सामना करना पड़ा। हालांकि, भारतीय टीम ने पहले ही टेस्ट और वनडे सीरीज अपने नाम कर ली है, लेकिन वेस्ट इंडीज ने टी-20 (IND vs WI) से अपनी वापसी की। इस हार के बाद कप्तान हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने अपने खिलाड़ियों का पूरा पक्ष लेते हुए तारीफ की। पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में हार्दिक पांड्या ने कहा कि युवा खिलाड़ियों की टीम गलतियां करेगी ही। लेकिन हम साथ में बढ़ेंगे। इस दौरान हार्दिक ने डेब्यू करने वाले तिलक वर्मा (Tilak Verma) और मुकेश कुमार (Mukesh Kumar) के प्रदर्शन को भी सराहा। हालांकि, उन्होंने टीम की गलतियां भी स्वीकार की।

हार्दिक पांड्या ने कहा कि “हम लक्ष्य का पीछा करते हुए काफी सहज थे। लेकिन हमने कुछ गलतियां की और मैच गंवाना पड़ा। लेकिन यह ठीक है, एक युवा टीम गलतियां करेगी। हम साथ बढ़ेंगे। पूरे मैच में हमारा नियंत्रण था, जो एक सकारात्म्क बात है।” पांड्या ने भारत की हार का कारण विकेट जल्दी गंवाना बताया। उन्होंने कहा कि “टी-20 क्रिकेट में अगर आप विकेट खो देते हैं तो किसी भी लक्ष्य का पीछा करना मुश्किल हो जाता है, वैसा ही हुआ। जब हमने अपने विकेट गंवाए तो हमारा लक्ष्य का पीछा करना रुक गया।”

‘तिलक ने जिस तरह से शुरुआत की…’

भारत बनाम वेस्ट इंडीज के पहले टी-20 मुकाबले से अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू करने वाले तिलक वर्मा की कप्तान हार्दिक ने जमकर सराहना की। हार्दिक ने कहा कि “जिस तरह से तिलक ने शुरुआत की, उसे देखकर काफी अच्छा लगा। कुछ छक्कों के साथ अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरुआत करना कोई बुरा तरीका नहीं है। तिलक में आत्मविश्वास और निडरता है। वह भारत के लिए चमत्कार कर सकते हैं।” पांड्या खेल के बाद पूरी तरह से अपने खिलाड़ियों के समर्थन में नजर आए। उन्होंने मुकेश कुमार को लेकर कहा कि “जिस तरह उन्होंने तीनों फॉर्मेट में डेब्यू किया, वह सच में अच्छा है। सचमुच वह एक अच्छा लड़का है, उसका दिल काफी साफ है। वह टीम के लिए योगदान देना चाहता है। उन्होंने टीम के लिए जो ओवर डाले वह शानदार थे।”

मैच की बात करें तो हार्दिक पांड्या की कप्तानी वाली टीम लक्ष्य के करीब पहुंचकर भी इसे पार नहीं कर सकी। एक के बाद एक विकेट गंवाने से टीम को चार रनों से हार का सामना करना पड़ा। भारत के लिए तिलक वर्मा ने 22 गेंदों में 39 रन बनाए, जिसमें उन्होंने तीन छक्के भी जड़े।

Editors pick