Cricket
IND vs WI: “भारत में क्रिकेट खेलना चुनौतिपूर्ण…” देखें क्यों छलका संजू सैमसन का दर्द

IND vs WI: “भारत में क्रिकेट खेलना चुनौतिपूर्ण…” देखें क्यों छलका संजू सैमसन का दर्द

Sanju Samson ने भारत में क्रिकेट खेलना चुनौती भरा बताया है। कहा कि Indian Cricketer बनना बिल्कुल आसान नहीं है।
विकेट कीपर बल्लेबाज संजू सैमसन (Sanju Samson) ने भारत और वेस्ट इंडीज वनडे सीरीज (IND vs WI ODI Series) के जरिए टीम इंडिया (Team India) में काफी समय बाद वापसी की है। भारत बनाम वेस्ट इंडीज (IND vs WI) दूसरे वनडे मैच में उन्होंने निराश किया था, जिसके बाद अपने दूसरे मौके यानि तीसरे वनडे […]

विकेट कीपर बल्लेबाज संजू सैमसन (Sanju Samson) ने भारत और वेस्ट इंडीज वनडे सीरीज (IND vs WI ODI Series) के जरिए टीम इंडिया (Team India) में काफी समय बाद वापसी की है। भारत बनाम वेस्ट इंडीज (IND vs WI) दूसरे वनडे मैच में उन्होंने निराश किया था, जिसके बाद अपने दूसरे मौके यानि तीसरे वनडे मुकाबले में संजू ने आतिशी अर्धशतकीय पारी खेली। लेकिन संजू के अंदर से आखिरकार उनका इतना पुराना दर्द छलक ही गया। पोस्ट मैच प्रजेंटेशन में बातचीत करते हुए संजू ने भारत में क्रिकेट खेलना चुनौती भरा बताया है। उनका कहना है कि भारतीय क्रिकेटर (Indian Cricketer) बनना बिल्कुल आसान नहीं है।

संजू सैमसन ने ब्रॉडकास्टर से बात करते हुए कहा कि “भारतीय क्रिकेटर होना चुनातीपूर्ण है। मैंने पिछले आठ से दस सालों से घरेलू क्रिकेट खेला है। यह आपको अलग-अलग पॉजिशन पर बल्लेबाजी करने की समझ देता है। आपको बल्लेबाजी करने की पॉजिशन नहीं बल्कि यह देखना होता है कि कितने ओवर आपको मिलते हैं। उसके मुताबिक आपको तैयार होना होता है।”

सैमसन ने तीसरे एक दिवसीय मुकाबले में 41 गेंदों में 51 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली। जिसमें उन्होंने चार छक्के और दो चौके जड़े। अपनी पारी के बारे में सैमसन ने कहा कि “मैदान पर थोड़ा समय बिताना काफी अच्छा महसूस होता है, थोड़े रन स्कोर करो और अपने देश को कुछ दो। मेरे पास अलग-अलग गेंदबाजों के लिए अलग योजनाएं थी। मैं अपने पैरों का इस्तेमाल करना चाहता था और गेंदबाजों की लेंथ पर हावी होना चाहता था।”

मुकाबले की बात करें तो भारतीय टीम ने 200 रनों से भी अधिक के अंत से यह मैच जीता। अब तीन अगस्त से भारत और वेस्ट इंडीज के बीच टी-20 सीरीज का आगाज होने जा रहा है। इस सीरीज में भी कप्तानी हार्दिक पांड्या के हाथों में होगी। वहीं, वेस्ट इंडीज ने भी टी-20 स्क्वाड में घातक खिलाड़ी शामिल किए हैं। टीम में निकोलस पूरन की वापसी हुई है, जो हाल ही में एमएलसी लीग में 40 गेंदों में शतक ठोक कर लौटे हैं।

Editors pick