WIPL TEAMS Auction: महिला आईपीएल टीमों की नीलामी से BCCI ने कमाए 4670 करोड़, RCB और अडानी समेत इन कंपनियों ने खरीदी टीमें: Follow LIVE Updates

WIPL TEAMS Auction: महिला आईपीएल (Womens IPL) में टीमों का ऑक्शन (Women’s IPL Auction) आज संपन्न हुआ। जहां इस ऑक्शन के चलते…

WIPL TEAMS Auction: महिला आईपीएल (Womens IPL) में टीमों का ऑक्शन (Women’s IPL Auction) आज संपन्न हुआ। जहां इस ऑक्शन के चलते भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI)  ने 4666.99 करोड़ रूपये की कमाई की। पिछली बार पुरुष आईपीएल टीम को खरीदने में विफल रहने के बाद अडानी समूह ने आखिरकार 1,289 करोड़ रुपये की उच्चतम बोली के साथ भारतीय क्रिकेट में प्रवेश किया है। अब वें अहमदाबाद फ्रेंचाइजी का संचालन करेंगे। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स 3 आईपीएल टीमें हैं जो महिला आईपीएल टीमों की भी मालिक होंगी। पांच टीमों का महिला आईपीएल मार्च (WIPL 2023 Schedule) में मुंबई में खेला जाएगा। क्रिकेट की सभी खबरों के लिए Hindi.InsideSport.In के साथ जुड़े रहें।

फ्रेंचाइजी और उनके मालिक

महिला आईपीएल में इस बार पांच टीमें मैदान में होंगी, जिसके लिए बीसीसीआई ने आज नीलामी प्रक्रिया पूरी की। इस नीलामी से बीसीसीआई और भारतीय महिला क्रिकेट की 4666.99 करोड़ रूपये की कमाई होगी।

  • अडानी स्पोर्ट्सलाइन प्राइवेट लिमिटेड ने सबसे बड़ी बोली लगाकर अहमदाबाद फ्रेंचाइजी को 1289 करोड़ में खरीदा।
  • इंडिया विन प्राइवेट लिमिटेड ने 912.99 करोड़ में मुंबई फ्रेंचाइजी खरीदी
  • JSW GMR क्रिकेट प्राइवेट लिमिटेड ने दिल्ली फ्रेंचाइजी को 810 करोड़ में खरीदा
  • रॉयल चलेंजेर्स बैंगलोर ने बैंगलोर फ्रेंचाइजी को 901 करोड़ में खरीदा
  • कैपरी ग्लोबल होल्डिंग्स ने लखनऊ फ्रेंचाइजी को 757 में खरीदा

बोली लगाने की प्रक्रिया में शामिल बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने पुष्टि की, “हम डब्ल्यूआईपीएल टीम टेंडर की प्रतिक्रिया से अभिभूत हैं। महिला क्रिकेट बुधवार को व्यावसायिक मोर्चे पर नया बेंचमार्क स्थापित करेगी। हम कल 14-15 कंपनियों को डब्ल्यूआईपीएल की 5 टीमों के लिए बोली लगाते देखेंगे।”

कौन-कौन है मैदान में?

महिला आईपीएल में टीमों को खरीदने के लिए 33 पार्टियां मैदान में हैं। पुरुष आईपीएल की 10 टीमों के मालिकाना हक रखने वाली कंपनियों के अलावा अडाणी समूह, टोरेंट समूह, हल्दीराम ग्रुप, कैप्री ग्लोबल, कोटक और आदित्य बिड़ला ग्रुप ने भी 5 लाख रुपए में बिडिंग डॉक्यूमेंट खरीदें हैं। हालांकि, पुरुष आईपीएल की तीन टीमों ने जिनमें चेन्नई सुपर किंग्स, लखनऊ सुपर जायंट्स और गुजरात टाइटंस ने बिडिंग डॉक्यूमेंट प्रस्तुत नहीं किए हैं।

सूत्रों के मुताबिक, आईपीएल फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियंस (रिलायंस), दिल्ली कैपिटल्स (जीएमआर-जेएसडब्ल्यू), कोलकाता नाइट राइडर्स, पंजाब किंग्स, राजस्थान रॉयल्स, सनराइजर्स हैदराबाद (सन टीवी नेटवर्क) और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (डियाजियो) ने अपनी तकनीकी-बिडिंग जमा करा दी है।

इससे पहले पुरुष आईपीएल टीमों की नीलामी में काम कर चुके उद्योग जगत से जुड़े एक अंदरूनी सूत्र ने नीलामी से पूर्व पीटीआई से कहा,‘‘डब्ल्यूआईपीएल में काफी संभावना है। कुछ बोली 500 करोड़ रुपए या इससे अधिक तक लग सकती हैं। 800 करोड़ रुपए से अधिक की बोली लगने की संभावना कम है लेकिन बीसीसीआई को शिकायत नहीं होगी। ’’

डब्ल्यूआईपीएल की टीमों को खरीदने के लिए 30 से अधिक कंपनियों ने पांच करोड़ रुपए में बोली दस्तावेज खरीदे हैं। इनमें पुरुष आईपीएल टीमों का मालिकाना हक रखने वाली 10 कंपनियां भी शामिल है।

अडानी ग्रुप, टोरेंट ग्रुप, हल्दीराम प्रभुजी, कैपरी ग्लोबल, कोटक और आदित्य बिरला ग्रुप ने भी टीमों को खरीदने में दिलचस्पी दिखाई है। इनमें वह कंपनियां भी शामिल हैं जो 2021 में पुरुष आईपीएल की दो नई टीमों को खरीदने में नाकाम रही थी।

आईपीएल टीमों में मुंबई इंडियंस, राजस्थान रॉयल्स, दिल्ली कैपिटल और कोलकाता नाइट राइडर्स टीम खरीदने में अधिक दिलचस्पी दिखा सकते हैं। उन्होंने वैश्विक स्तर पर भी टीम खरीदी हैं। बाजार के जानकारों के अनुसार व्यावसायिक घराने टीम खरीदने के लिए दो सिद्धांतों पर अपनी बोली लगाते हैं।

इनमें पहला निवेश पर प्रतिफल (आरओआई) है, जो किसी भी व्यवसाय का मूल सिद्धांत है। दूसरा व्यावसायिक सिद्धांत नहीं है, लेकिन व्यावसायिक समुदाय इसे अहं से जुड़ा हुआ मानते हैं। बोली से जुड़े आईपीएल फ्रेंचाइजी के एक पूर्व अधिकारी ने कहा,‘‘ माना कि कोई फ्रेंचाइजी पांच साल के लिए 500 करोड़ रुपए की सफल बोली लगाती है तो यहां प्रतिवर्ष 100 करोड़ रुपए होगा।’’

फ्रेंचाइजी के आय के स्रोतों के बारे में उन्होंने कहा,‘‘ बीसीसीआई अपने मीडिया प्रसारण अधिकारों के राजस्व को वितरित करता है जो कमाई का मुख्य स्रोत है। दूसरा बीसीसीआई के प्रयोजन से मिलने वाला हिस्सा है। तीसरा फ्रेंचाइजी अपने खुद के प्रायोजन से कमाई करती है तथा चौथा गेट की बिक्री और टिकटों की बिक्री से होने वाली कमाई है।’’

क्रिकेट और अन्य खेल से सम्बंधित खबरों (Latest Cricket News, Sports News, Breaking Sports News, Viral Video) को पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज (Google News) पर फॉलो करें।

Share This: