Andre Russell ने कहा, बायो बबल से पड़ता है मानसिक दबाव, जानिए और क्या बोले केकेआर प्लेयर

Andre Russell ने कहा, बायो बबल से पड़ता है मानसिक दबाव, जानिए और क्या बोले केकेआर प्लेयर: पाकिस्तान सुपर लीग में क्वेटा…

Andre Russell ने कहा, बायो बबल से पड़ता है मानसिक दबाव, जानिए और क्या बोले केकेआर प्लेयर
Andre Russell ने कहा, बायो बबल से पड़ता है मानसिक दबाव, जानिए और क्या बोले केकेआर प्लेयर

Andre Russell ने कहा, बायो बबल से पड़ता है मानसिक दबाव, जानिए और क्या बोले केकेआर प्लेयर: पाकिस्तान सुपर लीग में क्वेटा ग्लैडिएटर्स के लिए खेलने जा रहे आंद्रे रसेल इस समय अबू धाबी मे हैं, वह आगामी पीएसएल के लिए आए हैं जो 9 जून से शुरू हो रहा है. आंद्रे रसेल ने Geo News को दिए एक इंटरव्यू में बताया कि कोरोना वायरस के कारण बना बायो बबल कैसे उनके मानसिक दबाव का कारण बना है. जैसा आपको पता है कि दुनिया भर में फैले कोरोना वायरस के कारण क्रिकेट जगत में प्लेयर्स के लिए बायो बबल तैयार किया जाने लगा है, इसमें कुछ नियम कायदे होते हैं जो प्लेयर्स की सुरक्षा और लीग या अंतर्राष्ट्रीय सीरीज के सफल आयोजन को लेकर बनाए जाते हैं. अब इस बायो बबल का आंद्रे रसेल पर क्या असर पड़ा है, इसको लेकर उन्होंने खुद बताया.

बायो बबल पर बोले आंद्रे रसेल

आंद्रे रसेल ने जिओ न्यूज के साथ बातचीत में बताया, बायो बबल से मानसिक असर पड़ता है. पीएसएल के बाकी मैच के लिए मैं अबू धाबी में हूँ. क्वारंटाइन में यहां किसी अन्य प्लेयर के साथ बातचीत नहीं कर सकता, कोच के साथ बातचीत नहीं कर सकता. बबल से बबल में जाना, एक बंद कमरे में रहना, आप बाहर नहीं जा सकते, आप किसी खास जगह पर नहीं जा सकते, आप एक किसी समूह में नहीं जा सकते, ये अलग है और इससे मानसिक असर पड़ता है. लेकिन अंत में इससे परेशान नहीं हूं बल्कि आभारी हूं कि हम अभी भी खेल रहे हैं. हम अभी भी अपना काम कर रहे हैं. यह मुश्किल है, बेशक हम इसके लिए तैयारी करते हैं, लेकिन फिर भी इसका बुरा असर पड़ता है.

क्वारंटाइन में कैसे समय बिताते हैं आंद्रे रसेल

आंद्रे रसेल ने कहा, मैं होटल रूम के क्वारंटाइन के दौरान खाली जगह तालाशते हूं, जहां मैं कई तरह की एक्सरसाइज कर सकूं. मेरे लिए, मैं अपने रूम में बाइक आदि रखता हूं, जिससे मैं हृदय गति को लेकर एक्सरसाइज करता हूं. मैं फर्श पर पुश अप करता हूं, कुछ एक्सरसाइज करता हूं. कई एक्सरसाइज के लिए मैं होटल में मौजूद सामानों का उपयोग करता हूं.

यह भी पढ़ें- French Open 2021 से बाहर हो गई दुनिया की नम्बर 1 टेनिस खिलाड़ी, इस वजह से लिया फैसला

अपने ऊपर लगे 1 साल के बैन पर बोले आंद्रे रसेल

आंद्रे रसेल ने खुद पर 2017 में लगे बैन को लेकर भी बातचीत की, इसको लेकर उन्होंने कहा – इस घटना ने मेरी आंखे खोल दी. आंद्रे रसेल ने कहा, वो समय मेरे लिए बहुत ही मुश्किल था, वो ऐसा दौर था जहां मैं अधिक केयरफूल रह सकता था. खैर इतिहास इतिहास ही होता है, वह समय बीत चुका है. इस घटना ने जिंदगी की असलियत से मुझको रूबरू कराया, और मेरी आंखे खोली.

 

Share This: