IND vs NZ Test Series: न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले मुंबई में एक कैंप में तैयारी करेगी टीम इंडिया, रविंद्र जडेजा बाद में जुड़ेंगे

India vs Zealand-India team Mumbai camp: न्यूजीलैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज (IND vs NZ Test Series) से पहले भारतीय…

IND vs NZ Test Series: न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले मुंबई में एक कैंप में तैयारी करेगी इंडिया, Ravindra Jadeja बाद में जुड़ेंगे
IND vs NZ Test Series: न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले मुंबई में एक कैंप में तैयारी करेगी इंडिया, Ravindra Jadeja बाद में जुड़ेंगे

India vs Zealand-India team Mumbai camp: न्यूजीलैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज (IND vs NZ Test Series) से पहले भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने सभी खिलाड़ियों को मुंबई में होने वाले एक सप्ताह के शिविर (India team camp) में भाग लेने के लिए कहा है। ईशांत शर्मा, प्रसिद्ध कृष्णा, मयंक अग्रवाल और चेतेश्वर पुजारा एनसीए स्टाफ के मार्गदर्शन में शिविर में भाग लेंगे। वहीं रोहित शर्मा की अगुवाई वाली टी20 टीम तीन मैचों की सीरीज में व्यस्त रहेगी। हालांकि, न तो द्रविड़ और न ही रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) शिविर में शामिल होंगे। खेल की ताजा खबरों के लिए पढ़ते रहिए hindi.insidesport.in

काफी महीनों से नहीं खेला टेस्ट मैच
India vs Zealand-India team Mumbai camp:बीसीसीआई के एक अधिकारी ने इनसाइडस्पोर्ट को बताया कि कोच राहुल द्रविड़ को लगता है कि खिलाड़ियों के लिए एक शिविर की आवश्यकता है। क्योंकि उन्होंने इंग्लैंड सीरीज के बाद से कोई लाल गेंद वाला (टेस्ट) क्रिकेट नहीं खेला है। इससे खिलाड़ियों को सीरीज से पहले लय में आने में मदद मिलेगी। इसके बाद खिलाड़ी पहले टेस्ट के लिए कानपुर जाएंगे।

पहला टी20 जयपुर में होगा
IND vs NZ Test Series-India team camp-Ravindra Jadeja: अधिकारी ने बताया कि राहुल द्रविड़ टी20 टीम के साथ जयपुर में होंगे और वहां से वे सीरीज के लिए रांची और फिर कोलकाता जाएंगे। जो खिलाड़ी भी टेस्ट सीरीज का हिस्सा हैं, वे टेस्ट सीरीज के लिए कानपुर जाएंगे। इसमें कैंप के खिलाड़ी शामिल होंगे। विराट कोहली की तरह रवींद्र जडेजा को भी ब्रेक दिया गया है, लेकिन स्पिनर इसके समापन से पहले मुंबई में शिविर में शामिल होंगे।

ये भी पढ़ें: T20 World Cup Final: गौतम गंभीर ने फाइनल मैच से पहले कही बड़ी बात, कहा- NZ और AUS भी पड़ोसी हैं, तो फिर IND-PAK मैच को लेकर इतना बवाल क्यों?

अधिकारी ने कहा कि रविंद्र जडेजा लंबे समय से बायो बबल में हैं। ऐसे में उन्होंने ब्रेक का अनुरोध किया था। इसलिए वह मुंबई में होने वाले शिविर में कुछ दिनों बाद से जुड़ेंगे।

  • कई खिलाड़ियों के लिए दो महीने से अधिक समय तक रेड-बॉल (टेस्ट) क्रिकेट नहीं होने के कारण, राहुल द्रविड़ ने महसूस किया कि उनके लिए एक शिविर होना आवश्यक है।
  • श्रेयस अय्यर, प्रसिद्ध कृष्ण जैसे नए चेहरे टेस्ट टीम में शामिल होंगे ऐसे में द्रविड़ ने महसूस किया कि उन्हें परिस्थितियों के आदी होने के लिए कुछ लाल गेंद वाले क्रिकेट की जरूरत है।
  • दूसरा टेस्ट मुंबई में खेला जाएगा, ऐसे में खिलाड़ी यहां की पारिस्थितियों के हिसाब से अपने आप को ढाल सकते हैं।
  • रविंद्र जडेजा तीन-चार दिन बाद शिविर में शामिल होंगे क्योंकि उन्हें बीसीसीआई द्वारा ब्रेक दिया गया है।
  • मुंबई में बायो बबल नहीं होगा। कैंपर्स कानपुर चले जाएंगे और टेस्ट सीरीज के लिए बायो-बबल में प्रवेश करने से पहले तीन दिन क्वारंटाइन में बिताने होंगे।

दूसरा टेस्ट मुंबई में खेला जाएगा
IND vs NZ Test Series-India team camp-Ravindra Jadeja: इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, बीसीसीआई और राहुल द्रविड़ चाहते थे कि बेंगलुरू में एनसीए में कैंप हो। क्योंकि एनसीए में खिलाड़ियों को वहां के कोचों द्वारा प्रशिक्षित किया जाना था। लेकिन उन्होंने आखिरी समय में इसके खिलाफ फैसला किया। भारत और न्यूजीलैंड के बीच दूसरा टेस्ट मुंबई में खेला जाएगा। ऐसे में खिलाड़ियों को यहां पर खेलने का फायदा मिलेगा।

ये भी पढ़ें: NCA New Head: राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के प्रमुख का कार्यभार संभालेंगे वीवीएस लक्ष्मण, सौरव गांगुली ने की पुष्टि

कानपुर में क्वारैंटाइन होंगे खिलाड़ी
India vs Zealand-India team Mumbai camp:हालांकि, खिलाड़ी मुंबई में कैंप के लिए किसी बायो सिक्योर बबल में नहीं होंगे। इसके बजाय, वे निगेटिव कोरोना टेस्ट रिपोर्ट के साथ पहुंचेंगे। लेकिन उन्हें सलाह दी गई है कि वे बेवजह बाहर न निकलें और सार्वजनिक स्थानों पर न जाएं। जब खिलाड़ी कानपुर के लिए रवाना हो जाएंगे, तो वे टेस्ट सीरीज के लिए बायो-सिक्योर बबल में प्रवेश करेंगे।

बायो बबल में नहीं रहेंगे खिलाड़ी
बीसीसीआई के एक अधिकारी ने इनसाइडस्पोर्ट को बताया कि खिलाड़ी पहले ही लंबे समय से बायो बबल में हैं। ऐसे में कैंप में किसी भी प्रकार के बबल की व्यवस्था करना अनावश्यक है। खिलाड़ियों को कोरोना निगेटिव होने पर ही शिविर में शामिल किया जाएगा। जब खिलाड़ी टेस्ट सीरीज के लिए बायो बबल में शामिल होंगे तो उन्हे कानपुर में होने वाले पहले टेस्ट से पहले तीन दिन क्वारैंटाइन रखा जाएगा।

खेल की ताजा खबरों के लिए पढ़ते रहिए hindi.insidesport.in

Share This: