IND vs NZ Squad 2023: पृथ्वी शॉ ने जड़ी ट्रिपल सेंचुरी, चयनकर्ता बोले, ‘उसे किसकी जगह टीम में चुने’: Follow Live Updates

IND vs NZ Squad 2023: बीसीसीआई (BCCI) द्वारा चुने गए नए चयनकर्ता न्यूजीलैंड सीरीज (India Squad vs NZ) के लिए भारत की…

IND vs NZ Squad 2023: बीसीसीआई (BCCI) द्वारा चुने गए नए चयनकर्ता न्यूजीलैंड सीरीज (India Squad vs NZ) के लिए भारत की टीम चुनने के लिए तैयार हैं। इसी दौरान पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) चयन समिति का दरवाजा जोर से खटखटा रहे हैं। मुंबई के बल्लेबाज ने रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) इतिहास में दूसरा सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर (Highest Score Ranji Trophy) बना डाला है। पृथ्वी रणजी इतिहास में मुंबई की ओर से सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर बनाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं, हालांकि लगातार प्रदर्शन करने के बाद भी शॉ को टीम इंडिया में मौका नहीं मिल रहा है। ऐसे में इनसाइडस्पोर्ट ने शॉ के चयन को लेकर एक चयनकर्ता से संपर्क किया, जिन्होंने शॉ के बेहतरीन प्रदर्शन को स्वीकारा। क्रिकेट की खबरों के लिए Hindi.InsideSport.In को फॉलो करें।

इनसाइडस्पोर्ट को एक नए चुने गए चयनकर्ता ने नाम न छापने की शर्त पर बताया “मुझे बताओ, हम उसे कैसे और किसके स्थान पर शामिल करें? वनडे में क्या इशान किशन, शुभमन गिल, रोहित शर्मा को बाहर कर देना चाहिए? टी20 में फिर से इस चरण में स्थानों के लिए काफी प्रतिस्पर्धा है। लेकिन उनके नाम पर निश्चित रूप से चर्चा की जाएगी।”

पृथ्वी शॉ ने अपनी रणजी ट्रॉफी में शानदार पारी खेली है। शॉ ने एलीट बी ग्रुप के एक मुकाबले में असं के खिलाफ 379 रनों की लाजवाब पारी खेली। पृथ्वी शॉ के पास इस मैच में रणजी ट्रॉफी का सबस बड़ा व्यक्तिगत स्कोर बनाने का मौका था, लेकिन वह ऐसा करने से चूक गए। रणजी ट्रॉफी इतिहास का सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर 443 है, जो 1948 -49 में निंबालकर ने 1948-49 में महाराष्ट्र की ओर से खेलते हुए काठीवाड़ के खिलाफ बनाया था।

क्या पृथ्वी शॉ को चुना जाएगा?

  • मुंबई की तरफ से संजय मांजरेकर के नाम 1990-91 सीज़न में हैदराबाद के खिलाफ 377 रनों का सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर रिकॉर्ड था।
  • शॉ का इस साल रणजी ट्रॉफी में यह पहला शतक था।
  • उन्होंने अपनी पिछली सात पारियों में 22.85 के औसत और 68 के उच्च स्कोर के साथ 160 रन बनाए।
  • वह इस सीजन में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में 181.42 की स्ट्राइक रेट से 332 रन बनाकर और असम के खिलाफ 134 के शीर्ष स्कोर के साथ दूसरे स्थान पर रहे।
  • उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में सात पारियों में 217 रन बनाए, लेकिन लिस्ट ए क्रिकेट में उनका औसत 50 से अधिक है।

हालांकि पिछले एक साल से पृथ्वी शॉ घरेलू क्रिकेट में दमदार प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद उन्हें भारतीय टीम में जगह नहीं मिल पा रही है। इसे लेकर पृथ्वी शॉ भी बयान दे चुके हैं।

पृथ्वी शॉ ने मिड-डे से कहा था, ‘मैं निराश था। मैं रन बना रहा हूं, बहुत मेहनत कर रहा हूं, लेकिन मौका नहीं मिल रहा है। लेकिन, यह ठीक है। जब उन्हें (राष्ट्रीय चयनकर्ता) महसूस करेंगे कि मैं तैयार हूं, तो वे मुझे खिलाएंगे। मुझे जो भी अवसर मिलेंगे, चाहे वह भारत ‘ए’ या अन्य टीमों के लिए हों, मैं यह सुनिश्चित करूंगा कि मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूं और अपने फिटनेस स्तर को बनाए रखूं।’

पूर्व भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर ने हाल ही में शॉ का समर्थन किया था और कोचों और चयनकर्ताओं से उनकी मदद करने का आग्रह किया था।

गौतम गंभीर ने कहा था, “पृथ्वी शॉ जैसे भी खिलाड़ी जिस तरह से उसने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत की थी और जिस तरह की प्रतिभा उसके पास है, आप प्रतिभा के लिए ऐसे खिलाड़ी का समर्थन करते हैं।”

”गौतम गंभीर ने मुंबई के सलामी बल्लेबाज का समर्थन करते हुए कहा, “हां, आपको परवरिश भी देखनी होगी। वह कहां से आता है और उसके सामने क्या चुनौतियां हैं। प्रबंधन और चयनकर्ताओं के लिए उसे मिश्रण में रखना और उसे सही रास्ते पर लाने में मदद करना और भी अधिक समझ में आता है।”

शॉ ने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच जुलाई 2021 में खेला था, उसके बाद से उन्हें टीम में मौका नहीं दिया गया है। शॉ के इंटरनेशनल करियर की बात करें तो उन्होंने पांच टेस्ट मैंचों में 42। 38 की औसत से 339 रन बनाए हैं, जिसमें 1 शतक और 2 अर्धशतक शामिल है। वहीं 6 वनडे में शॉ ने 31। 5 के औसत से 189 रन बनाए हैं। असम के खिलाफ मुशीर खान के साथ मिलकर शॉ ने पहले विकेट के लिए 123 रन जोड़े।

IND vs NZ Squad 2023: पृथ्वी शॉ ने जड़ी ट्रिपल सेंचुरी, चयनकर्ता बोले, ‘उसे किसकी जगह टीम में चुने’: Follow Live Updates

क्रिकेट और अन्य खेल से सम्बंधित खबरों (Latest Cricket News, Sports News, Breaking Sports News) को पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज (Google News) पर फॉलो करें।

Share This: