महान गेंदबाज कर्टली एम्ब्रोस का बड़ा बयान, ‘मुझे नहीं लगता कि वेस्टइंडीज दोबारा कभी वैसे स्वर्णिम दौर में लौटेगा’

महान गेंदबाज कर्टली एम्ब्रोस का बड़ा बयान, ‘मुझे नहीं लगता कि वेस्टइंडीज दोबारा कभी वैसे स्वर्णिम दौर में लौटेगा’- महान तेज गेंदबाज…

'मुझे नहीं लगता कि दोबारा वैसे स्वर्णिम दिन लौटेंगे', कर्टली एम्ब्रोज
'मुझे नहीं लगता कि दोबारा वैसे स्वर्णिम दिन लौटेंगे', कर्टली एम्ब्रोज

महान गेंदबाज कर्टली एम्ब्रोस का बड़ा बयान, ‘मुझे नहीं लगता कि वेस्टइंडीज दोबारा कभी वैसे स्वर्णिम दौर में लौटेगा’- महान तेज गेंदबाज कर्टली एम्ब्रोज का मानना है कि मौजूदा दौर के कैरेबियाई क्रिकेटरों को पता ही नहीं है कि वेस्टइंडीज के लिए क्रिकेट के क्या मायने हैं और साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि उन्हें नहीं लगता कि दो बार की विश्व चैंपियन टीम फिर वह वैभवशाली दौर देख पाएगी.

वेस्टइंडीज ने 1975 और 1979 में पहले दो विश्व कप जीते थे. इसके 33 साल बाद उसने फिर आईसीसी ट्रॉफी जीती जब डैरेन सैमी की अगुवाई में टीम ने 2012 टी20 विश्व कप जीता था.

एम्ब्रोज ने टॉक स्पोर्ट्स लाइव से कहा, “आज के दौर के अधिकांश युवाओं को पता ही नहीं है कि वेस्टइंडीज के लिए क्रिकेट के क्या मायने हैं. क्रिकेट एकमात्र खेल है जो कैरेबियाई लोगों को एकजुट करता है.”

जबकि क्रिस गेल, आंद्रे रसेल, निकोलस पूरन, शिमरोन हेटमेयर जैसे खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की तरह फ्रेंचाइजी क्रिकेट में बड़ी सफलता मिली है, लेकिन कर्टली एम्ब्रोस को लगता है कि ब्रायन लारा, विव रिचर्ड्स या कोर्टनी वॉल्श जैसे खिलाड़ियों को ढूंढना मुश्किल होगा।

उन्होंने कहा, “आज के खिलाड़ियों के प्रति कोई अपमान की भावना नहीं है क्योंकि हमारे पास कई बेहतरीन खिलाड़ी हैं जो महान बन सकते हैं लेकिन हमें समझना होगा कि हम शायद वह पुराना दौर फिर नहीं जी सकेंगे.”

एम्ब्रोज ने कहा, “दूसरा विव रिचर्ड्स या डेसमंड हैंस या गोर्डन ग्रीनिज ढूंढना कठिन होगा. ऐसे ही दूसरा ब्रायन लारा, रिची रिचर्डसन, मैल्कम मार्शल, कर्टली एम्ब्रोज , कर्टनी वाल्श, माइकल होल्डिंग या एंडी रॉबर्ट्स भी नहीं मिल सकेगा.”

ये भी पढ़ें –India Tour of Sri Lanka- भारतीय क्रिकेट टीम में हो सकता है बड़ा बदलाव, राहुल द्रविड़ हो सकते हैं मुख्य कोच, शिखर धवन बन सकते हैं कप्तान

Share This: