Azadi ka Amrit Mahotsav: आज़ादी के बाद क्रिकेट के 5 यादगार पल, जिनपर हर भारतीय को है गर्व-check OUT

Azadi ka Amrit Mahotsav: भारत के आज़ादी के 75 वर्ष (Independence Day) पूरे होने जा रहे हैं और इसीलिए देश भर में…

Azadi ka Amrit Mahotsav: आज़ादी के बाद क्रिकेट के 5 यादगार पल, जिनपर हर भारतीय को है गर्व-check OUT
Azadi ka Amrit Mahotsav: आज़ादी के बाद क्रिकेट के 5 यादगार पल, जिनपर हर भारतीय को है गर्व-check OUT

Azadi ka Amrit Mahotsav: भारत के आज़ादी के 75 वर्ष (Independence Day) पूरे होने जा रहे हैं और इसीलिए देश भर में आज़ादी का अमृत महोत्सव (Amrit Mahotsav) मनाया जा रहा है। देश भर में इस महोत्सव को लेकर बड़ा उत्साह है और कई नामी हस्तियां इसमें हिस्सा ले रही हैं। आज़ादी के इन 75 वर्षों में क्रिकेट ने भी एक अलग मुकाम हासिल किया है। एक तरफ भारत में क्रिकेट को एक धर्म माना जाने लगा तो क्रिकेटर्स को भगवान की तरह पूजा जाने लगा। आज़ादी के इन 75 वर्षों में कई ऐसे मौके आए जब क्रिकेट ने भारतीय फैंस को गर्व करने का मौका दिया। आज हम ऐसे ही 5 यादगार पलों के बारे में बता रहे हैं।

1971 में पहली बार जीती टेस्ट सीरीज

भारत ने 1931 में टेस्ट मैच खेलना शुरू किया लेकिन उसे एक सीरीज जीतने के लिए लंबा इन्तजार करना पड़ा। 1971 में भार ने इंग्लैंड के खुलाफ पहली टेस्ट सीरीज अपने नाम की। इस जीत में भारतीय टीम के कप्तान अजीत वाडेकर थे और उनकी अगुवाई में इंग्लैंड की जमीन पर मिली इस जीत को भारतीय क्रिकेट में एक बड़ी उपलब्धि माना गया।

1983 में भारतीय टीम ने पहला विश्व कप खिताब जीता

1983 में भारतीय टीम ने कपिल देव की अगुवाई में पहली बार विश्व कप अपने नाम किया था। आज़ादी के बाद क्रिकेट में यह भारत की सबसे बड़ी जीत मानी जाती है। भारत की कमजोर टीम ने वेस्टइंडीज जैसी मजबूत टीम को हराकर यह खिताब आने नाम किया था।

Azadi ka Amrit Mahotsav: आज़ादी के बाद क्रिकेट के 5 यादगार पल, जिनपर हर भारतीय को है गर्व-check OUT

2003 में भारत दूसरी बार विश्व कप के फाइनल में पहुंचा

भारत ने 2003 विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करते हुए फाइनल में जगह बनाई थी, इस विश्व कप के फाइनल मुक़ाबले में भारत का सामना उस ऑस्ट्रलिया से हुआ था। इस मैच में भारतीय टीम अपने प्रदर्शन को दोहराने में कामयाब नहीं रहे थे और बहरत 125 रनों से फाइनल मुक़ाबला हार गया था।

2007 में पहला टी20 विश्व कप जीता

महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में भारत ने पहली बार आयोजित किए गए टी२० विश्व कप को अपने नाम किया था। इस विश्व कप को जीतकर भारत ने इतिहास रच दिया था। फाइनल मुक़ाबले में भारत ने पाकिस्तान को मात दी और आखिरी गेंद पर श्रीसंथ ने मिस्बाह का कैच पकड़ कर भारत को जीत दिलाई।

2011 में भारत ने भारत में ही जीता दुसरा विश्व कप खिताब

2007 विश्व कप के ठीक चार साल बाद जब मुंबई के वानखेड़े मैदान में 50 ओवर वर्ल्डकप का फाइनल हुआ, तब कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने विनिंग सिक्स लगाकर भारत को वर्ल्डकप का खिताब जीताया। भारत ने 28 साल बाद विश्व कप जीता था और उस रात पूरा भारत सड़कों पर जश्न मना रहा था।

क्रिकेट और अन्य खेल से सम्बंधित खबरों को पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज (Google News) पर फॉलो करें।

Share This: