Asia Cup 2022: टीम इंडिया एशिया कप से बाहर होने के बाद वापस घर लौटी, सूर्यकुमार यादव ने आते ही की गणेश पूजा-Check OUT

Asia Cup 2022: टीम इंडिया (Team India) दुबई में चल रहे एशिया कप (Asia Cup) से वापस लौटा आए हैं। यह टूर्नामेंट…

Asia Cup 2022: टीम इंडिया एशिया कप से बाहर होने के बाद वापस घर लौटी, सूर्यकुमार यादव ने आते ही की गणेश पूजा-Check OUT
Asia Cup 2022: टीम इंडिया एशिया कप से बाहर होने के बाद वापस घर लौटी, सूर्यकुमार यादव ने आते ही की गणेश पूजा-Check OUT

Asia Cup 2022: टीम इंडिया (Team India) दुबई में चल रहे एशिया कप (Asia Cup) से वापस लौटा आए हैं। यह टूर्नामेंट भारतीय क्रिकेट टीम की उम्मीदों के मुताबिक अच्छा नहीं रहा और भारतीय टीम सुपर 4 में अपने दो मुकाबले हार कर बाहर हो गयी। लेकिन 2-3 दिनों के आराम के बाद, भारतीय टीम फिर से ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए मैदान [ार वापस लौट आएगी। टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) के लिए ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले भारतीय क्रिकेटरों को घर पर आराम करने का समय मिल गया है। सूर्य कुमार यादव (Suryakumar Yadav) जैसे ही घर लौटे, उन्होंने सीधे घर पर गणेश पूजा की। खेल की ताजा खबरों के लिए जुड़े रहिए- hindi.insidesport.in 

टीम इंडिया उड़ान में 11 घंटे बिताकर आगे महज 14 दिनों में 8800 किलोमीटर का लंबा सफर तय करेगी। इस मैराथन में, विराट कोहली और अन्य खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 6 T20I मैच खेलेंगे। ये सभी टी20 वर्ल्ड कप 2022 की तैयारी के लिए हैं।

Asia Cup 2022: टीम इंडिया एशिया कप से बाहर होने के बाद वापस घर लौटी, सूर्यकुमार यादव ने आते ही की गणेश पूजा-Check OUT

भारत 20 सितंबर से मोहाली, नागपुर और हैदराबाद में 6 दिनों के भीतर ऑस्ट्रेलिया से खेलेगा। विराट कोहली और अन्य जैसे खिलाड़ी फ्लाइट में 5 घंटे बिताएंगे, इन 6 दिनों के दौरान टीम इंडिया 3000 किलोमीटर से ज्यादा की यात्रा करेंगे। हैदराबाद से, भारत दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टी20 के लिए तिरुवनंतपुरम की यात्रा करता है। और फिर सबसे मुश्किल हिस्सा आता है, खिलाड़ियों को गुवाहाटी की यात्रा करनी होगी जो कि 3400 किलोमीटर दूर है। अगर भारत वाणिज्यिक मार्ग अपनाता है, तो खिलाड़ियों को असम की राजधानी दीसपुर तक पहुंचने में कम से कम 10 घंटे लगेंगे।

बता दें कि भारत टी20 विश्व कप से पहले ऑस्ट्रेलिया में दो अभ्यास मैच भी खेलेगा। ऐसे में खिलाड़ियों के चोटिल होने की संभावना बनी रहती है। क्या भारत मेगा इवेंट से पहले चोटों का जोखिम उठा सकता है, खासकर जब ट्रॉफी जीतना पहली और अहम प्राथमिकता हो? शायद नहीं। चयनकर्ताओं में से एक भी खुश नहीं है। लेकिन वह इसे “इससे निपटने” के लिए टीम प्रबंधन पर छोड़ देता है।

क्रिकेट और अन्य खेल से सम्बंधित खबरों को पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज (Google News) पर फॉलो करें।

Share This: