CWG 2022: पाक क्रिकेटर बाबर आजम ने जीता दिल, Gold मेडलिस्ट नूह दस्तगीर को 2 मिलियन देने का किया वादा

CWG 2022: पाकिस्तान के क्रिकेटर और कप्तान बाबर आजम (Babar Azam) ने एक बार फिर दिल जीतने का काम किया है। कुछ…

CWG 2022: पाक क्रिकेटर बाबर आजम ने जीता दिल, Gold मेडलिस्ट नूह दस्तगीर को 2 मिलियन देने का किया वादा
CWG 2022: पाक क्रिकेटर बाबर आजम ने जीता दिल, Gold मेडलिस्ट नूह दस्तगीर को 2 मिलियन देने का किया वादा

CWG 2022: पाकिस्तान के क्रिकेटर और कप्तान बाबर आजम (Babar Azam) ने एक बार फिर दिल जीतने का काम किया है। कुछ समय पहले विराट कोहली (Virat Kohli) को समर्थन दिखाने के बाद बाबर ने दिल खोलकर पाकिस्तान के लिए पहला गोल्ड मेडल (Gold Medal) जीतने वाले नूह दस्तगीर बट (Nooh Dastagir Butt) को इनाम दिया है। दरअसल नूह दस्तगीर बट ने कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth Games 2022) में पाकिस्तान (Pakistan) के लिए पहला गोल्ड मेडल जीता है। इस दौरान उन्होंने वेटलिफ्टिंग में 405 किग्रा भार उठाकर देश को गौरवान्वित करने का काम किया है। वहीं नूह दस्तगीर की इस कामयाबी पर बाबर आजम ने उन्हें 2 मिलियन की राशि देने का वादा किया है। खेल जगत की ताजा खबरों के लिए जुड़े रहिए- hindi.insidesport.in

बता दें कि, नूह दस्तगीर बट ने 2018 में गोल्ड कोस्ट में 105+ किग्रा वर्ग में कांस्य पदक भी जीता था। 24 वर्षीय इस वेटलिफ्टर ने 2015, 2016, 2017, और 2021 राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप में चार पदक जीते हैं। कॉमनवेल्थ में उनके प्रदर्शन से खुश होकर क्रिकेटर बाबर आजम ने उन्हें 2 मिलियन की इनामी राशि देने का वादा किया है।

यह भी पढ़ें: CWG 2022 LIVE: मुरली श्रीशंकर ने सिल्वर मेडल जीतकर रच दिया इतिहास, पीएम मोदी ने दी बधाई-check OUT

वहीं नूह दस्तगीर ने राष्ट्रमंडल खेलों का अपना गोल्ड मेडल अपने पिता को समर्पित करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि उनके पिता ने अपने शुरुआत सालों में बहुत त्याग किया है। इस दौरान उन्होंने कहा, “यह मेरे दोस्तों और परिवार के सदस्यों के समर्थन और प्रार्थना के बिना संभव नहीं था। मैं यह गोल्ड मेडल अपने पिता को समर्पित करता हूं, जिन्होंने 12 साल तक काम किया और इस मुकाम तक पहुंचने में मेरी मदद की।

CWG 2022: पाक क्रिकेटर बाबर आजम ने जीता दिल, Gold मेडलिस्ट नूह दस्तगीर को 2 मिलियन देने का किया वादा
CWG 2022: पाक क्रिकेटर बाबर आजम ने जीता दिल, Gold मेडलिस्ट नूह दस्तगीर को 2 मिलियन देने का किया वादा

उन्होंने आगे कहा, “इस गोल्ड को जीतने के लिए मुझे कड़ी मेहनत और समर्पण की आवश्यकता थी। अपने देश के लिए पदक जीतना हमेशा गर्व का क्षण होता है और सोना कुछ खास होता है।

क्रिकेट और अन्य खेल से सम्बंधित खबरों को पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज (Google News) पर फॉलो करें।

Share This: