Athletics
National Sports Awards 2021: समय पर नहीं होगा नेशनल स्पोर्ट्स अवार्ड समारोह, पैरालंपिक खिलाड़ियों को भी किया जाएगा शामिल

National Sports Awards 2021: समय पर नहीं होगा नेशनल स्पोर्ट्स अवार्ड समारोह, पैरालंपिक खिलाड़ियों को भी किया जाएगा शामिल

National Sports Awards 2021: समय पर नहीं होगा नेशनल स्पोर्ट्स अवार्ड समारोह, पैरालंपिक खिलाड़ियों को भी किया जाएगा शामिल
National Sports Awards 2021: समय पर नहीं होगा नेशनल स्पोर्ट्स अवार्ड समारोह, पैरालंपिक खिलाड़ियों को भी किया जाएगा शामिल: हर साल 29 अगस्त को आयोजित होने वाला राष्ट्रीय खेल पुरस्कार समारोह इस साल देर से कराया जायेगा क्योंकि सरकार चाहती है कि चयन पैनल टोक्यो पैरालंपिक (Tokyo Paralympics 2021) में भाग लेने वाले पैरा खिलाड़ियों […]

National Sports Awards 2021: समय पर नहीं होगा नेशनल स्पोर्ट्स अवार्ड समारोह, पैरालंपिक खिलाड़ियों को भी किया जाएगा शामिल: हर साल 29 अगस्त को आयोजित होने वाला राष्ट्रीय खेल पुरस्कार समारोह इस साल देर से कराया जायेगा क्योंकि सरकार चाहती है कि चयन पैनल टोक्यो पैरालंपिक (Tokyo Paralympics 2021) में भाग लेने वाले पैरा खिलाड़ियों के प्रदर्शन को भी इनमें शामिल किया जाए। खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि पुरस्कार विजेताओं को चुनने के लिये चयन पैनल गठित कर लिया गया है लेकिन चयन प्रक्रिया में आगे बढ़ने से पहले वे कुछ और समय इंतजार करना चाहेंगे।

National Sports Awards 2021: राष्ट्रीय युवा पुरस्कार समारोह में बोले खेल मंत्री

अनुराग ठाकुर ने राष्ट्रीय युवा पुरस्कार समारोह के दौरान कहा – इस साल के लिये राष्ट्रीय खेल पुरस्कार समिति गठित कर दी गयी है लेकिन पैरालंपिक (Tokyo Paralympics 2021) का आयोजन किया जाना है इसलिये हम पैरालंपिक के विजेताओं को भी इसमें शामिल करना चाहते हैं। मुझे उम्मीद है कि वे अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

राष्ट्रीय पुरस्कार – खेल रत्न पुरस्कार, अर्जुन पुरस्कार, द्रोणाचार्य पुरस्कार और ध्यानचंद पुरस्कार – हर साल देश के राष्ट्रपति द्वारा 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस के मौके पर दिये जाते हैं जो महान हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद की जयंती भी है।

National Sports Awards 2021: वर्चुअल हो सकता है पुरस्कार समारोह 

मंत्रालय के एक सूत्र ने पीटीआई से कहा- पिछली बार की तरह इस साल भी पुरस्कार समारोह वर्चुअल कराये जा सकते हैं। राष्ट्रीय पुरस्कारों के लिये नामांकन प्रक्रिया दो बार बढ़ाये जाने के बाद पांच जुलाई को समाप्त हुई थी। महामारी को देखते हुए आवेदन करने वाले खिलाड़ियों को ऑनलाइन खुद ही नामांकित करने की अनुमति थी लेकिन राष्ट्रीय महासंघों ने भी अपने चुने हुए खिलाड़ी भेजे।

भारतीय दल ने हाल में समाप्त हुए टोक्यो ओलंपिक में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया जिसमें देश के खिलाड़ियों ने एक गोल्ड, दो सिल्वर और चार ब्रोंज मेडल जीते थे। भारत टोक्यो में 54 पैरा एथलीटों का सबसे बड़ा दल भेज रहा है। पिछले पैरालंपिक खेलों में भारतीय खिलाड़ी दो गोल्ड, एक सिल्वरऔर एक ब्रोंज सहित चार मेडल लेकर लौटे थे।

यह भी पढ़ें – Lovlina Borgohain असम पुलिस में DSP नियुक्त, आज राज्य में हुआ जोरदार स्वागत

National Sports Awards 2021: हाल ही में बदला गया खेल के सबसे बड़े अवार्ड का नाम

देश के सबसे बड़े खेल सम्मान खेल रत्न को हाल में हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के नाम पर (Major Dhyan Chand Khel Ratna Award) किया गया जो पहले पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम पर था। पिछले वर्ष खेल पुरस्कारों की पुरस्कार राशि में काफी वृद्धि की गयी थी। खेल रत्न में अब 25 लाख रूपये का पुरस्कार मिलता है जो पहले के साढ़े सात लाख से काफी ज्यादा है। अर्जुन पुरस्कार की पुरस्कार राशि पांच लाख से बढ़ाकर 15 लाख रूपये कर दी गयी।


पहले द्रोणाचार्य (लाइफटाइम) पुरस्कार हासिल करने वालों को पांच लाख रूपये दिये जाते थे जिन्हें बढ़ाकर 15 लाख रूपये कर दिया गया। द्रोणाचार्य (नियमित) पुरस्कार हासिल करने वाले प्रत्येक कोच को पांच लाख के बजाय 10 लाख रूपये मिलते हैं। पीटीआई भाषा

Editors pick