Athletics
India At Olympics In Wrestling : जीतने के लिए इस पहलवान ने रवि दहिया के बाजू को काटा था, जानिए फाइनल से पहले कितने फिट हैं रवि

India At Olympics In Wrestling : जीतने के लिए इस पहलवान ने रवि दहिया के बाजू को काटा था, जानिए फाइनल से पहले कितने फिट हैं रवि

India At Olympics In Wrestling : जीतने के लिए रवि दहिया के बाजू को काटा
India At Olympics In Wrestling : जीतने के लिए रवि दहिया के बाजू को काटा था, जानिए फाइनल से पहले कितने फिट olympics 2020 : wrestling update:  कजाखस्तान के सानायेव पहलवान ने tokyo 2020 गेम्स के फाइनल में पंहुचे भारतयीय पहलवान रवि दहिया को सेमीफाइनल मुकाबले में खेल भावना के विरुध उनकी बाजू पर दातों […]

India At Olympics In Wrestling : जीतने के लिए रवि दहिया के बाजू को काटा था, जानिए फाइनल से पहले कितने फिट olympics 2020 : wrestling update:  कजाखस्तान के सानायेव पहलवान ने tokyo 2020 गेम्स के फाइनल में पंहुचे भारतयीय पहलवान रवि दहिया को सेमीफाइनल मुकाबले में खेल भावना के विरुध उनकी बाजू पर दातों से काट लिया। हालांकि भारतीय पहलवान एकदम ठीक है और फाइनल wrestling final में अपना हुनर दिखाने को एकदम तैयार है। आप इस फोटो में साफ देख सकते हैं कि रवि की दाहिनी बांह में काटने का गहरा निशान बना हुआ है।

India At Olympics In Wrestling : जीतने के लिए रवि दहिया के बाजू को काटा

ये भी पढ़ें- Indian Hockey at Tokyo Olympics: ओलंपिक में 41 साल बाद पदक जीतने के इरादे से जर्मनी के खिलाफ उतरेगी टीम इंडिया

olympics 2020 : wrestling update

बता दें कि भारतीय पहलवान रवि दहिया टोक्यो ओलिंपिक के फाइनल में पहुंचने वाले दूसरे पहलवान बन गए। उन्होंने 57 किलो वर्ग के सेमीफाइनल में कजाखस्तान के नूरइस्लाम सानायेव को हराया। चौथी वरीयता प्राप्त भारतीय पहलवान रवि 2-9 से पीछे था लेकिन दहिया ने वापसी करते हुए अपने विरोधी के दोनों पैरों पर हमला किया और उसके गिरने से जीतने में कामयाब रहे। इससे पहले सुशील कुमार ने 2012 लंदन ओलिंपिक में फाइनल में जगह बनाकर रजत पदक जीता था। दहिया ने इससे पहले दोनों मुकाबले तकनीकी दक्षता के आधार पर जीते थे।

India At Olympics In Wrestling 

सुशील कुमार के बारे में भी ऐसा कहा जाता है कि उन्होंने भी लंदन ओंलपिक tokyo 2020 में अपने विरोधी पहलवान के कान को मुंह से काट लिया था।
रवि पांचवें भारतीय बन गए हैं जो देश के लिए कुश्ती में मेडल लाए हैं। पूरा देश अब उम्मीद कर रहा है कि वे फाइनल wrestling final में जीते और देश के लिए मेड लाएं।

Editors pick