Athletics
Atanu Das हुए दुखी, वाइफ Deepika kumari के साथ Tokyo Olympics में जोड़ी ना बनने से नाराज

Atanu Das हुए दुखी, वाइफ Deepika kumari के साथ Tokyo Olympics में जोड़ी ना बनने से नाराज

Archery, Atanu Das, Indian Archer At Olympic, Tokyo 2020, Tokyo Olympic, Olympic
Atanu Das हुए दुखी, वाइफ Deepika kumari के साथ Tokyo Olympics में जोड़ी ना बनने से नाराज- भारतीय तीरंदाज (Archery) अतनु दास (Atanu Das) ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo 2020) की मिश्रित टीम स्पर्धा में अपनी पत्नी और दुनिया की नंबर एक तीरंदाज दीपिका कुमारी के साथ प्रतिस्पर्धा पेश करने का मौका नहीं मिलने पर गुरुवार […]

Atanu Das हुए दुखी, वाइफ Deepika kumari के साथ Tokyo Olympics में जोड़ी ना बनने से नाराज- भारतीय तीरंदाज (Archery) अतनु दास (Atanu Das) ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo 2020) की मिश्रित टीम स्पर्धा में अपनी पत्नी और दुनिया की नंबर एक तीरंदाज दीपिका कुमारी के साथ प्रतिस्पर्धा पेश करने का मौका नहीं मिलने पर गुरुवार को निराशा जताई। दास ने पुरुष व्यक्तिगत स्पर्धा के दूसरे दौर में यहां दो बार के ओलंपिक चैंपियन दक्षिण कोरिया के ओह जिन हयेक के खिलाफ पिछड़ने के बाद जीत दर्ज करने का श्रेय दीपिका को दिया। (Indian Archer At Olympic) (Tokyo Olympic) (Olympic)

मिश्रित युगल में जोड़ी टूटने के बाद दीपिका जिन हयेक के खिलाफ अंतिम 32 के मुकाबले में दास की हौसलाअफजाई के लिए मौजूद थीं। जिन हयेक तोक्यो खेलों में पुरुष टीम स्पर्धा जीतने वाली कोरिया की टीम का हिस्सा थे। (Indian Archer At Olympic) (Tokyo Olympic) (Olympic)

ये भी पढ़ें- Ravi Shastri ने टोक्यो ओलंपिक से हटने वाली Simone Biles के लिए भेजा खास संदेश, कहा- किसी को सफाई देने की जरुरत नहीं

दास ने जीत दर्ज करने के बाद ‘मिक्सड जोन’ (जहां खिलाड़ी मीडिया से बात करते हैं) में कहा, ”मैं हर समय उसकी बात सुन रहा था। वह मेरा हौसला बढ़ा रही थी, कह रही थी कि ‘अपने ऊपर भरोसा रखो’, ‘तुम कर सकते हो’, ‘धैर्य रखो और स्थिति का सामना करो।” (Archery)

उन्होंने कहा, ”वह दुनिया की नंबर एक तीरंदाज है और मेरी खुशकिस्मती है कि इस प्रतियोगिता में मेरी पत्नी मेरे साथ है। यह मेरे लिए बहुत बड़ा समर्थन और प्रेरणा है।”

दास को मिश्रित युगल में दीपिका के साथ जोड़ी बनाने का मौका नहीं मिला क्योंकि वह रैंकिंग दौर में प्रवीण जाधव से पीछे रहे। पहली बार ओलंपिक में हिस्सा ले रहे जाधव ने 31वां जबकि दास ने 35वां स्थान हासिल किया था।

भारतीय तीरंदाजी टीम प्रबंधन ने रैंकिंग के अनुसार चलने का फैसला किया और इस स्टार जोड़ी की एक महीने से भी कम समय पहले पेरिस विश्व कप में स्वर्ण पदक जीतने की उपलब्धि को नजरअंदाज कर दिया।

जाधव और दीपिका ने पहली बार जोड़ी बनाई और उन्हें कोरिया के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में हार का सामना करना पड़ा।

दास ने कहा, ‘‘मुझे मिश्रित टीम में उसके साथ खेलने की उम्मीद थी लेकिन दुर्भाग्य से यह संभव नहीं था। मुझे नहीं पता क्यों?’’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन यह काफी संतोषजनक है (कि हम दोनों अंतिम 16 में पहुंच गए हैं)। हम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहे हैं। देखते हैं क्या होता है।’’

दास अगले दौर में स्थानीय दावेदार तकाहारू फुरुकावा से भिड़ेंगे जो लंदन 2012 ओलंपिक के व्यक्तिगत रजत पदक विजेता और यहां कांस्य पदक जीतने वाले जापान की टीम के सदस्य थे।

पिछले साल जून में शादी करने वाली दास और दीपिका की जोड़ी ओलंपिक खेलों में एक ही स्पर्धा में चुनौती पेश करने वाली पति-पत्नी की पहली भारतीय जोड़ी है।

यह पूछने पर कि क्या वे खेल गांव में एक साथ रहते हैं, दास ने कहा, ‘‘मैं पुरुष टीम के साथ रहता हूं। वह खेल गांव में अलग रहती है लेकिन अधिकांश समय हम साथ होते हैं।’’

Editors pick