Athletics
एशियन गेम्सः भारतीय हॉकी टीम ने 9 साल बाद जीता गोल्ड मेडल, पेरिस ओलंपिक के लिए किया क्वॉलिफाई

एशियन गेम्सः भारतीय हॉकी टीम ने 9 साल बाद जीता गोल्ड मेडल, पेरिस ओलंपिक के लिए किया क्वॉलिफाई

एशियन गेम्स में भारतीय हॉकी टीम ने 9 साल बाद स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। साथ ही भारत ने पेरिस ओलंपिक कोटा भी हासिल किया।

चीन में चल रहे एशियन गेम्स में भारतीय हॉकी टीम जापान को 5-1 से हराकर गोल्ड मेडल पर कब्जा कर लिया है। खेलों में यह भारत का 22वां स्वर्ण पदक है। वहीं, हॉकी टीम के लिए यह एक बड़ी उपलब्धि है। एशियन गेम्स में भारत ने यह कारनामा पूरे 9 सालों बाद किया है।

भारत ने इस मैच में स्वर्ण पदक जीतने के साथ पेरिस ओलंपिक के लिए भी क्वालीफाई कर लिया है। टीम इंडिया ने जापान के खिलाफ हुए इस मैच में शुरुआत से ही पकड़ बनाए रखी। जापान पूरे गेम में एक भी समय वापसी नहीं कर सका। जापान की ओर से मात्र एक ही गोल किया गया। जबकि भारतीय खिलाड़ी हरमनप्रीत सिंह ने 32वें और 59वें, अभिषेक ने 48वें, अमित रोहिदास ने 36वें और मनप्रीत सिंह ने 25वें मिनट में गोल दागे। जापान की ओर से तनाका ने 51वें मिनट में पहला गोल दागा। लेकिन जब तक मैच पूरी तरह से भारत के पाले में पहुंच गया था।

जापान के लिए एकमात्र गोल एस तनाका ने 51वें मिनट में दागा। पहले क्वॉर्टर में दोनों टीमों ने रक्षात्मक खेल दिखाया। भारत को 15वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन अमित रोहिदास की फ्लिक सीधे जापान के गोलकीपर के सामने गई।

यह भी देखेंः ‘अबकी बार सौ पार’, भारत ने एशियन गेम्स में 100 मेडल पक्के कर रचा इतिहास, विजेताओं की पूरी लिस्ट

भारतीय टीम ने मैच के दूसरे क्वार्टर में अधिकतर गोल दागे। हालांकि, टीम को शुरुआती तीसरे मिनट में ही पेनल्टी कार्नर के रूप में मौका मिल गया था। लेकिन इस दौरान रोहिदास इसे गोल में तब्दील करने में असफल रहे। इसके बाद टीम ने अपना खाता 25वें मिनट में खोला। जिसके बाद लगातार गोल की बरसात हुई।

आखिरी यानि पांचवां गोल हरमनप्रीत सिंह ने दागा। उन्होंने चौथे क्वार्टर में हूटर बजने से एक मिनट पहले शानदार गोल किया। इस दौरान फाइनल मैच में भी भारतीय क्रिकेट टीम हॉकी टीम का उत्साहवर्धन करती नजर आई।

Editors pick